bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा सूरजपुर (कांगड़ा) और राजगढ़ (सोलन), हिमाचल प्रदेश में आयोजित विशाल जनसभाओं में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह जी अपने पांच साल के कामकाज का हिसाब नहीं देते, भ्रष्टाचार पर कोई जवाब नहीं देते, गुड़िया के न्याय की बात नहीं करते लेकिन हमसे हर रोज यह पूछते हैं कि भाजपा किसके नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है?
**********
भारतीय जनता पार्टी पूरे देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ती है। वीरभद्र जी, यदि आप सुनना चाहते हैं कि हिमाचल प्रदेश में भाजपा किसके नेतृत्व में चुनाव लड़ने वाली है तो मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूँ कि भारतीय जनता पार्टी श्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रही है
**********
भाजपा पूर्व मुख्यमंत्री श्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में दो-तिहाई से अधिक बहुमत से जीत हासिल कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के विकसित हिमाचल के सपने को साकार करेगी< /strong>
**********
यदि सरदार पटेल न होते तो देश का स्वरूप कैसा होता, इसकी हम कल्पना ही नहीं कर सकते। सरदार पटेल हर भारतवासी के दिल में बसे हुए हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी तीन पीढ़ियों से सरदार साहब को मिटाने का कुप्रयास कर रही है और यह प्रयास सतत जारी है
**********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरदार पटेल के सपनों का भारत बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी कटिबद्ध है। मोदी सरकार सरदार पटेल द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चल कर देश को विश्वगुरु के पद पर पुनर्प्रतिष्ठित करने के लिए निरंतर अथक परिश्रम कर रही है
**********
पांच साल से हिमाचल प्रदेश में जिस तरह से कांग्रेस की वीरभद्र सरकार चल रही है, उसने राज्य के विकास को अवरुद्ध करके रख दिया है। देवभूमि हिमाचल को कांग्रेस के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने माफियाओं की भूमि बना कर रख दी है
**********
राहुल गांधी हमसे मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल का हिसाब मांगते हैं। मैं राहुल गांधी जी को पूछना चाहता हूँ कि आप तो तीन पीढ़ी से राज कर रहे हैं, उसका हिसाब कौन देगा? हमारा हिसाब वे मांग रहे हैं जो खुद भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे हुए हैं
**********
शिमला में 14 साल की गुड़िया के साथ जो हुआ, आखिर उसकी जिम्मेदारी किसकी है? आज हिमाचल प्रदेश की महिलायें ये सवाल पूछ रही हैं कि गुड़िया के साथ हुए इस हादसे का जिम्मेदार कौन है?
**********
हिमाचल प्रदेश में जब पानी की कमी को दूर करने की बात आई तो उसका प्रबंध श्री शांता कुमार जी ने किया, जब बिजली और सड़क की बात आई तो इस कार्य को श्री प्रेम कुमार धूमल जी ने संपन्न करने का काम किया, राहुल जी आप बताइये कि आपने हिमाचल प्रदेश को क्या दिया
**********
मोदी सरकार ने एक साल में ही ‘वन रैंक, वन पेंशन' का प्रश्न समाप्त करके देश के भूतपूर्व सैनिकों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है
**********
हमने हिमाचल प्रदेश को कांग्रेस की यूपीए सरकार के 13वें वित्त आयोग की तुलना में मोदी सरकार में 14वें वित्त आयोग में 71,000 करोड़ रुपये ज्यादा दिए लेकिन ये पैसे हिमाचल के विकास की बजाय राज्य के कांग्रेसी नेताओं के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए
**********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का हिमाचल के साथ दिल का रिश्ता है, उन्होंने संगठन के लिए गाँव-गाँव, गली-गली काम किया है, उन्हें मालूम है कि देवभूमि हिमाचल प्रदेश का विकास कैसे किया जा सकता है लेकिन यहाँ की कांग्रेस सरकार उन्हें काम नहीं करने देती
**********
इस बार देवभूमि की जनता को मौक़ा नहीं चूकना चाहिए। इस बार प्रदेश की जनता इतनी मजबूती से सरकार बनाए कि अगले 20 सालों तक हिमाचल प्रदेश में भाजपा को राज्य की जनता की सेवा करने का निरंतर अवसर मिले ताकि हिमाचल का कायाकल्प हो सके और वह देश का एक अग्रणी राज्य बन सके
**********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज हिमाचल प्रदेश के सूरजगढ़ (कांगड़ा) और राजगढ़ (सोलन) में आयोजित विशाल जनसभाओं को संबोधित किया और कहा कि भारतीय जनता पार्टी पूर्व मुख्यमंत्री श्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में दो-तिहाई से अधिक बहुमत से जीत हासिल कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के विकसित हिमाचल के सपने को साकार करेगी। उन्होंने हिमाचल की जनता को विकास से महरूम रखने के लिए राज्य की मौजूदा वीरभद्र सरकार पर जमकर प्रहार किया और राज्य की कांग्रेस सरकार को भ्रष्टाचार का पर्यायवाची बताया। इससे पहले उन्होंने शिमला में सरदार वल्लभ भाई पटेल की जन्म जयंती पर आयोजित ‘एकता दौड़' को हरी झंडी दिखाई।

श्री शाह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह जी अपने पांच साल के कामकाज का हिसाब नहीं देते, भ्रष्टाचार पर कोई जवाब नहीं देते, गुड़िया के न्याय की बात नहीं करते लेकिन हमसे हर रोज यह पूछते हैं कि भाजपा किसके नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है? उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी पूरे देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ती है। उन्होंने कहा कि वीरभद्र जी, यदि आपको यह सुनना है कि हिमाचल प्रदेश में भाजपा किसके नेतृत्व में चुनाव लड़ने वाली है तो मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूँ कि भारतीय जनता पार्टी हिमाचल प्रदेश में श्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रही है। उन्होंने कहा कि मैं वीरभद्र जी को कहना चाहता हूँ कि हम 2017 का हिमाचल विधानसभा चुनाव हमारे वरिष्ठ नेता श्री प्रेम कुमार धूमल के नाम पर लड़ेंगे और यह भी कहना चाहता हूँ कि अभी श्री धूमल जी पूर्व मुख्यमंत्री हैं, हिमाचल में विपक्ष के नेता हैं लेकिन आगामी 18 दिसंबर, 2017 के बाद श्री प्रेम कुमार धूमल जी हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने वाले हैं।

एकता दौड़ को हरी झंडी दिखाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए ही सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्मदिवस को एकता दिवस के रूप में मनाना शुरू किया था और अब उनके प्रधानमंत्री बनने के बाद एकता दौड़ की एक परंपरा पूरे देश में बनती जा रही है। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत के इतिहास में एक ऐसा स्थान रखते हैं जो सहस्र सालों में विरले को ही मिल पाता है। उन्होंने कहा कि देश को आजादी तो मिली लेकिन देश में उस वक्त 350 से भी अधिक छोटे-छोटे रियासत थे। उन्होंने कहा कि ये सरदार पटेल थे जिन्होंने अप्रतिम धैर्य एवं साहस का परिचय देते हुए अखंड भारत के नवनिर्माण की परिकल्पना को साकार किया। उन्होंने कहा कि यदि सरदार पटेल न होते तो देश का स्वरूप कैसा होता, इसकी हम कल्पना ही नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि आज हमारा देश जिस स्वरूप में दिख रहा है, इसका यश निस्संदेह सरदार वल्लभ भाई पटेल जी को जाता है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल हर भारतवासी के दिल में बसे हुए हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी तीन पीढ़ियों से सरदार साहब को मिटाने का कुप्रयास कर रही है और यह प्रयास सतत जारी है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद यदि किसी को सबसे पहले भारत रत्न मिलना चाहिए था तो वह सरदार वल्लभ भाई पटेल को मिलना चाहिए था लेकिन भारत रत्न तो दूर, संसद में उनकी तस्वीर तक कांग्रेस के शासनकाल में नहीं लग पाई। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल का व्यक्तित्व ही ऐसा है कि कोई कितना भी उन्हें मिटाने की कोशिश कर ले, उनके सम्मान में देश अधिक एकजुट होकर देश की एकता के लिए आगे निकल पड़ेंगे।

श्री शाह ने कहा कि आज जब देश के महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री पटेल चौक पर सरदार पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित करने जाते हैं तो हृदय प्रफुल्लित हो उठता है, अब तक कभी सरदार पटेल की जयंती पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ही उनको श्रद्धांजलि देने नहीं जाते थे। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल के जन्मदिवस को ‘एकता दौड़’ के रूप में मनाने का निर्णय लेकर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश में एक नई स्वस्थ परंपरा का सूत्रपात किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरदार पटेल के सपनों का भारत बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से पूरे देश ने सरदार पटेल के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए देश की एकता को अक्षुण्ण बनाए रखने का शपथ लेते हुए एकता दौड़ में भाग लिया है, यह स्पष्ट करता है कि देश की जनता उन्हें कितना प्यार करती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने जिस तरह से देश में विकास की दौड़ लगाईं है, वह अद्वितीय है। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल जी के अधूरे छूटे हुए कार्य को पूरा करने का काम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सरदार पटेल द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चल कर देश को विश्वगुरु के पद पर पुनर्प्रतिष्ठित करने के लिए निरंतर अथक परिश्रम कर रही है।

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की वीरभद्र सरकार पर करारा प्रहार करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पांच साल से हिमाचल प्रदेश में जिस तरह से कांग्रेस की वीरभद्र सरकार चल रही है, उसने राज्य के विकास को अवरुद्ध करके रख दिया है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में हिमाचल में जिस गति से विकास होना चाहिए था, उस गति से विकास नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि देवभूमि हिमाचल को कांग्रेस के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने माफियाओं की भूमि बना कर रख दी है। उन्होंने कहा कि हिमाचल में हर तरफ भू-माफिया, खनन माफिया, वन माफिया, ट्रांसफर माफिया आदि माफियाओं का बोलबाला है और मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि हिमाचल का विकास हो रहा है।

हिमाचल में क़ानून-व्यवस्था की स्थिति पर राज्य की सत्ताधारी कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लेते हुए श्री शाह ने कहा कि शिमला में 14 साल की गुड़िया के साथ जो हुआ, आखिर उसकी जिम्मेदारी किसकी है? उन्होंने कहा कि शिमला में गुड़िया के साथ बलात्कार होता है और जांच तक नहीं होती, जब राज्य की जनता और विपक्ष के दवाब में जांच शुरू होती है तो एक आरोपी की पुलिस हिरासत में संदेहास्पद स्थिति में मौत हो जाती है। उन्होंने कहा कि जनता का आक्रोश बढ़ने पर जब इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जाती है तो आई जी रैंक के अधिकारी की गिरफ्तारी होती है। उन्होंने कहा कि आज हिमाचल प्रदेश की महिलायें ये सवाल पूछ रही हैं कि गुड़िया के साथ हुए इस हादसे का जिम्मेदार कौन है?

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी हमसे मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल का हिसाब मांगते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र में हमारी सरकार के बने हुए तीन ही साल हुए हैं, फिर भी जनता को पाई-पाई का हिसाब देने की तो हमारी परंपरा रही है लेकिन मैं राहुल गांधी जी को पूछना चाहता हूँ कि आप तो तीन पीढ़ी से राज कर रहे हैं, उसका हिसाब कौन देगा? उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जब पानी की कमी को दूर करने की बात आई तो उसका प्रबंध श्री शांता कुमार जी ने किया, जब बिजली और सड़क की बात आई तो इस कार्य को श्री प्रेम कुमार धूमल जी ने संपन्न करने का काम किया, राहुल जी आप बताइये कि आपने हिमाचल प्रदेश को क्या दिया, हिमाचल प्रदेश की जनता तो आपसे इसका हिसाब मांग रही है।

श्री शाह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश वीरों की भूमि है। उन्होंने कहा कि आज देश की सीमाएं सुरक्षित हैं, इसमें हिमाचल प्रदेश का बहुत बड़ा योगदान है लेकिन पिछले 40 वर्षों से अधिक समय से देश के जवान ‘वन रैंक, वन पेंशन’ की मांग करते आ रहे थे लेकिन इंदिरा गांधी से लेकर सोनिया गांधी-मनमोहन सिंह की सरकार तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने एक साल में ही ‘वन रैंक, वन पेंशन' का प्रश्न समाप्त करके देश के भूतपूर्व सैनिकों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के 10 सालों में 12 लाख करोड़ रुपये के घपले, घोटाले और भ्रष्टाचार हुए जबकि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार पर तीन सालों में भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लग पाया। उन्होंने कहा कि हमने तीन सालों में देश को एक पारदर्शी एवं निर्णायक सरकार देने का काम किया है। कांग्रेस पर करारा प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि हमारा हिसाब वे मांग रहे हैं जो खुद भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे हुए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने एक भ्रष्टाचारी मुख्यमंत्री को हिमाचल की जनता पर थोप दिया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल की जनता मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह जी से हिसाब मांगे कि जब केंद्र में 10 साल तक यूपीए की सोनिया-मनमोहन सरकार थी, तब हिमाचल प्रदेश को विकास के लिए कांग्रेस सरकार से क्या मिला? उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग में जहां सेन्ट्रल टैक्स में हिमाचल प्रदेश की हिस्सेदारी लगभग 11,000 करोड़ रुपये थी, वहीं मोदी सरकार के 14वें वित्त आयोग में हिस्सेदारी को बढ़ा कर 28,000 करोड़ रुपये कर दिया गया है, लगभग ढ़ाई गुना ज्यादा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय 13वें वित्त आयोग में अनुदान सहायता के रूप में हिमाचल को 10,000 करोड़ रुपये मिलते थे, जिसे 14वें वित्त आयोग में मोदी सरकार ने चार गुना बढ़ा कर 43,810 करोड़ रुपये कर दिया। उन्होंने कहा कि इसी तरह रेवेन्यू डेफिसिट ग्रांट को भी 7,890 करोड़ रुपये से बढ़ा कर 40,625 करोड़ और लोकल बॉडीज ग्रांट को भी 642 करोड़ रुपये से बढ़ा कर 2,012 करोड़ रुपये दिया गया। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर देखें तो शेयर इन सेन्ट्रल टैक्स, अनुदान सहायता, लोकल बॉडीज ग्रांट, डिजास्टर रिलीफ फंड आदि योजनाओं में 13वें वित्त आयोग में कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार ने 44,235 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की, वहीं 14वें वित्त आयोग में मोदी सरकार ने हिमाचल प्रदेश को 1,15,846 करोड़ रुपये आवंटित किया है, जो यूपीए सरकार की तुलना में इन सेक्टरों में लगभग 71,000 करोड़ रुपये अधिक है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त धर्मशाला में स्मार्ट सिटी के लिए 188 करोड़, स्वच्छ भारत अभियान के लिए 17 करोड़, प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 68 करोड़, अमृत मिशन के लिए 274 करोड़, अर्बन ट्रांसपोर्ट के लिए 164 करोड़, एम्स के लिए 1000 करोड़, तीन नए मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिए 570 करोड़, स्वास्थ्य सुविधा के लिए 730 करोड़, हिमालय सर्किट पर्यटन के लिए 100 करोड़ रुपये और 4000 किलोमीटर लंबे राजमार्ग के लिए हिमाचल प्रदेश को 60 हजार करोड़ रुपये की सहायता उपलब्ध कराई गई है। हिमाचल प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हमने तो हिमाचल की जनता को तीन साल का हिसाब दे दिया, अब वीरभद्र सिंह को हिमाचल की जनता को जवाब देना चाहिए कि यह 71,000 करोड़ रुपये कहाँ गए, वे पैसे हिमाचल प्रदेश के कांग्रेसी नेताओं के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का हिमाचल के साथ दिल का रिश्ता है, उन्होंने संगठन के लिए गाँव-गाँव, गली-गली काम किया है, उन्हें मालूम है कि देवभूमि हिमाचल प्रदेश के विकास को कैसे आगे बढ़ाया जा सकता है लेकिन यहाँ की कांग्रेस सरकार उन्हें काम नहीं करने देती। उन्होंने हिमाचल की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि राज्य में एक ऐसी सरकार बनाइये जो मोदी जी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करे और यह काम राज्य में बनने वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार ही कर सकती है। उन्होंने हिमाचल प्रदेश के लिए भाजपा के विजन डॉक्यूमेंट की चर्चा करते हुए कहा कि यदि हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो राज्य से माफियाओं को ख़त्म करने के लिए मुख्यमंत्री कार्यालय में 24 घंटे काम करने वाली हेल्पलाइन शुरू की जायेगी, साथ ही, खनन, वन एवं पुलिस - इन तीनों को मिलाकर एक जॉइंट टास्क फ़ोर्स बनाया जाएगा जो खनन माफियाओं को जेल भेजने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल से ड्रग्स की समस्या को ख़त्म करने के लिए मेजर सोमनाथ शर्मा वाहिनी बनाई जायेगी। राज्य में भाजपा सरकार बनने पर ई-टेंडर के जरिये सारे टेंडर निकाले जायेंगे ताकि भ्रष्टाचार न हो। उन्होंने कहा कि हिमाचल की कांग्रेस सरकार ने लोकायुक्त के मामले में विपक्ष को विश्वास में नहीं लिया लेकिन मैं हिमाचल की जनता को भरोसा दिलाना चाहता हूँ कि हिमाचल की भाजपा सरकार लोकायुक्त विपक्ष को भरोसे में लेकर नियुक्त करेगी। उन्होंने कहा कि शिमला और धर्मशाला में युवाओं के लिए युवा हॉस्टल बनाए जायेंगे, हर जिले में मिनी स्टेडियम और खेल एकेडमी बनाई जायेगी, किसानों के लिए सेब, आम और संतरे का समर्थन मूल्य बढ़ाने का भी उल्लेख हमने अपने विजन डॉक्यूमेंट में किया है। उन्होंने कहा कि पालमपुर में स्थित कृषि विश्वविद्यालय को केन्द्रीय विश्वविद्यालय बनाने का प्रयास भारतीय जनता पार्टी की राज्य सरकार करेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल में रोजगार बहुत बड़ी समस्या है, युवाओं का पहाड़ से पलायन हो रहा है, इसे रोकने के लिए पूरे हिमाचल में हम जैविक खेती को बढ़ावा देकर कृषि को और मुनाफे वाली बनाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने तय किया है कि IT कनेक्टिविटी बढ़ा कर हिमाचल को हम एक बहुत बड़ा सॉफ्टवेयर हब बनायेंगे जिससे राज्य के युवाओं को रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि हिमाचल में भाजपा की सरकार बनने पर वर्ग तीन और चार से इंटरव्यू को ख़त्म करेगी। उन्होंने कहा कि हमने तय किया है कि ट्रांसफर इंडस्ट्री भाजपा सरकार में नहीं चलेगी, ट्रांसफर के लिए एक पारदर्शी ट्रांसफर पॉलिसी बनाई जायेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के वीर शहीदों के लिए हर जिले में शहीद स्मारक और पार्क बनाए जायेंगे।

भाजपा अध्यक्ष ने हिमाचल प्रदेश की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि इस बार देवभूमि की जनता को मौक़ा नहीं चूकना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार प्रदेश की जनता इतनी मजबूती से सरकार बनाए कि अगले 20 सालों तक हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को राज्य की जनता की सेवा करने का निरंतर अवसर मिले ताकि हिमाचल का कायाकल्प हो सके और वह देश का एक अग्रणी राज्य बन सके।

(महेंद्र पांडेय)
कार्यालय सचिव

 

Tag: 11 | 7 | 17

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter