bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा महबूबनगर, तेलंगाना में आयोजित ऐतिहासिक जन सभा ‘BJP Shankaravam’ में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

 

आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में चल रही विकास यात्रा से देश के 19 राज्य जुड़ चुके हैं, तेलंगाना की जनता भी इस यात्रा से जुड़ कर राज्य में विकास का नया अध्याय लिखना चाहती है

****************

मैं तेलंगाना की जनता को आश्वस्त करते हुए कहना चाहता हूँ कि भारतीय जनता पार्टी एक ऐसे तेलंगाना का निर्माण करना चाहती है जहां न तो दलितों और आदिवासियों पर अत्याचार होगा और न ही किसानों पर गोलियां चलाई जायेगी, ही उन्हें हथकड़ियां पहनाई जायेगी

****************

क्या तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव जी को मई में लोक सभा चुनाव के साथ चुनाव होने पर जीतने का विश्वास नहीं था? यदि मई में टीआरएस को जीत का भरोसा नहीं था तो इस वर्ष नवंबर-दिसंबर में भी चुनाव कराने से भी तेलंगाना में टीआरएस की सरकार नहीं बनने वाली

****************

एआईएमआईएम और ओवैसी के डर से टीआरएस सरकार ने 17 सितंबर कोहैदराबाद मुक्ति दिवस' मनाना बंद कर दिया। जो पार्टी  एआईएमआईएम और ओवैसी के डरहैदराबाद मुक्ति दिवस' मनाना बंद कर दे, वह पार्टी तेलंगाना के अस्मिता की रक्षा नहीं कर सकती

****************

आप राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाइये, हम प्रत्येक वर्ष 17 सितंबर कोहैदराबाद मुक्ति दिवस' का भव्य कार्यक्रम मनाएंगे

****************

एक ओर हार के डर से समय से 9 महीने पूर्व ही विधान सभा चुनाव कराने वाली टीआरएस है तो वहीं दूसरी ओर राहुल गाँधी के नेतृत्व में हार का रिकॉर्ड कायम करने वाली कांग्रेस पार्टी है

****************

राहुल गाँधी को चुनाव जीतने के दिवास्वप्न आ रहे हैं लेकिन पहले उन्हें 2014 से 2018 तक का इतिहास उलट कर देख लेना चाहिए। 2014 के बाद से देश में हुए लगभग सभी चुनावों में भाजपा की जीत और कांग्रेस पार्टी की करारी हार हुई है। तेलंगाना में भी कांग्रेस पार्टी की हार निश्चित है

****************

टीआरएस और एआईएमआईएम, दोनों आपस में मिले हुए हैं। यदि ओवैसी की पार्टी से टीआरएस का कोई लेना-देना नहीं है तो फिर टीआरएस सरकार किसके डर से और किसके कहने पर अल्पसंख्यकों को अलग से 12% आरक्षण देने का प्रस्ताव लाई?

****************

यदि टीआरएस सरकार अल्पसंख्यकों को अलग से 12% आरक्षण देना चाहती है तो उसे स्पष्ट करना चाहिए कि किसका आरक्षण ख़त्म कर वह ये आरक्षण देना चाहती है क्योंकि 50% से अधिक आरक्षण तो दिया ही नहीं जा सकता?

****************

अवैध रूप से देश में रहने वाले घुसपैठिये देश की सुरक्षा और देश के संसाधनों के लिए ख़तरा हैं। भारतीय जनता पार्टी देश भर से हर एक घुसपैठिये को चुन-चुन कर मतदाता सूची से अलग करने का काम करेगी। केसीआर को स्पष्ट करना चाहिए कि बांग्लादेशी घुसपैठिये देश में रहने चाहिए या बाहर जाने चाहिए

****************

तेलंगाना की केसीआर सरकार 2014 में किये गए अपने वादे पूरा करने में विफल रही है

****************

केसीआर 2014 में किये गए वादे के साथ धोखा करते हुए दलित को मुख्यमंत्री नहीं बना पाए लेकिन अब उन्हें स्पष्ट करना चाहिए कि वे 2018 में दलित को मुख्यमंत्री बनायेंगे या नहीं?

****************

एक ओर टीआरएस सरकार की गलत नीतियों के कारण तेलंगाना में किसान आत्महत्या को मजबूर हो रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भाजपा सरकार ने किसानों को उनके फसल पर लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का निर्णय लिया है।

****************

तेलंगाना के मुख्यमंत्रीआयुष्मान भारत' योजना को राज्य में लागू नहीं कर रहे हैं क्योंकि उन्हें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की लोकप्रियता और बढ़ जाने का डर सता रहा है। अरे केसीआर जी, आज राज्य की गरीब जनता के आरोग्य पर राजनीति क्यों कर रहे हो?

****************

मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार के 13वें वित्त आयोग में तेलंगाना को दिए गए 16,597 करोड़ की तुलना में 1,15,605 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। इसके अतिरिक्त अन्य केन्द्रीय योजनाओं में अलग से  115000 करोड़ रुपये दिए गए हैं

****************

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज तेलंगाना के महबूब नगर में आयोजित ऐतिहासिक जन सभा ‘BJP Shankaravam’ को संबोधित किया और राज्य की जनता से भारतीय जनता पार्टी को समर्थन देने की अपील की।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी सारे देश में लोक सभा और विधान सभा चुनाव एक साथ कराना चाहते हैं ताकि खर्च कम हो और सभी राज्य प्रगति के पथ पर एक समान आगे बढ़ें लेकिन तेलंगाना में तो लोक सभा के चुनाव के साथ ही विधान सभा चुनाव होने थे, जिसे हार के डर से टीआरएस 9 महीने पहले कराना चाहती है। टीआरएस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि क्या चंद्रशेखर राव जी को मई में लोक सभा चुनाव के साथ चुनाव होने पर जीतने का विश्वास नहीं था क्या? यदि मई में टीआरएस को जीत का भरोसा नहीं था तो इस वर्ष नवंबर-दिसंबर में भी चुनाव कराने से भी तेलंगाना में टीआरएस की सरकार नहीं बनने वाली।

श्री शाह ने कहा कि तेलंगाना राज्य और तेलुगु अस्मिता का सवाल लंबे समय से जनता उठाती रही है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद रजाकारों के भयानक जुल्म के खिलाफ यहाँ की जनता ने जो बलिदान दिया, उनके सम्मान में 17 सितंबर को प्रति वर्ष ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस' मनाया जाता है लेकिन एआईएमआईएम और ओवैसी के डर से टीआरएस सरकार ने 17 सितंबर कोहैदराबाद मुक्ति दिवस' मनाना बंद कर दिया। उन्होंने कहा कि जो पार्टी  एआईएमआईएम और ओवैसी के डरहैदराबाद मुक्ति दिवस' मनाना बंद कर दे, वह पार्टी तेलंगाना के अस्मिता की रक्षा नहीं कर सकती। उन्होंने तेलंगाना की जनता को वचन देते हुए कहा कि आप राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाइये, हम प्रत्येक वर्ष 17 सितंबर कोहैदराबाद मुक्ति दिवस' का भव्य कार्यक्रम मनाएंगे।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि ए ओर हार के डर से समय से 9 महीने पूर्व ही विधान सभा चुनाव कराने वाली टीआरएस है तो वहीं दूसरी ओर राहुल गाँधी के नेतृत्व में हार का रिकॉर्ड कायम करने वाली कांग्रेस पार्टी है। उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी को चुनाव जीतने के दिवास्वप्न आ रहे हैं लेकिन पहले उन्हें 2014 से 2018 तक का इतिहास उलट कर देख लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी जी के देश के प्रधानमंत्री बनने के बाद से देश भर में हुए लगभग सभी चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई है जबकि कांग्रेस पार्टी की करारी हार हुई है। तेलंगाना में भी कांग्रेस पार्टी की हार निश्चित है। उन्होंने कहा कि तेलुगु जनता आज भी यह नहीं भूली है कि किस तरह से कांग्रेस पार्टी ने मुख्यमंत्री तन्गुतुरी अंजैया जी और प्रधानमंत्री श्री पी वी नरसिम्हा राव जी के साथ दुर्व्यवहार किया था।

श्री शाह ने कहा कि टीआरएस एक नया झूठा शिगूफा छोड़ रही है कि ओवैसी की पार्टी से उसका कोई गठजोड़ नहीं है जबकि दोनों आपस में मिले हुए हैं। उन्होंने कहा कि यदि ओवैसी की पार्टी से टीआरएस का कोई लेना-देना नहीं है तो फिर टीआरएस सरकार किसके डर से और किसके कहने पर अल्पसंख्यकों को अलग से 12% आरक्षण देने का प्रस्ताव लाई? उन्होंने कहा कि टीआरएस सरकार ये अल्पसंख्यकों को 12% अलग से आरक्षण देगी कहाँ से जबकि सुप्रीम कोर्ट के अनुसार 50% से अधिक आरक्षण दिया ही नहीं जा सकता। इस स्थिति में तेलंगाना की टीआरएस सरकार तो एससी/एसटी, ओबीसी और आदिवासियों के आरक्षण को काट कर ही दे सकती है। यदि टीआरएस सरकार अल्पसंख्यकों को अलग से 12% आरक्षण देना चाहती है तो उसे स्पष्ट करना चाहिए कि किसका आरक्षण ख़त्म कर वह ये आरक्षण देना चाहती है?

एनआरसी पर बोलते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अवैध रूप से देश में रहने वाले घुसपैठिये देश की सुरक्षा और देश के संसाधनों के लिए ख़तरा हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एनआरसी लाकर असम में रहने वाले अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों को अलग करने का एक प्रयास किया है जबकि टीआरएस, कांग्रस और टीएमसी सहित तमाम विपक्षी दल अवैध घुसपैठिये के पक्ष में खड़ी हो गए। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश भर से हर एक घुसपैठिये को चुन-चुन कर मतदाता सूची से अलग करने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि केसीआर को स्पष्ट करना चाहिए कि बांग्लादेशी घुसपैठिये देश में रहने चाहिए या बाहर जाने चाहिए।

श्री शाह ने कहा कि तेलंगाना की केसीआर सरकार 2014 में किये गए अपने वादे पूरा करने में विफल रही है। उन्होंने कहा कि 2014 में केसीआर ने बहुमत मिलने पर तेलंगाना को दलित मुख्यमंत्री देने का वादा किया था लेकिन जब पूर्ण बहुमत मिला तो वे वादे से पलट गए और खुद ही मुख्यमंत्री बन बैठे। यह तेलंगाना के दलित समाज के साथ धोखा है। उन्होंने कहा कि ठीक है, आप 2014 में एक दलित को मुख्यमंत्री नहीं बना पाए लेकिन आ ये बताइये कि आप 2018 में दलित को मुख्यमंत्री बनायेंगे या नहीं? उन्होंने कहा कि तेलंगाना में जिस तरह से दलित समाज पर अत्याचार हुआ है, उससे दलित समाज में टीआरएस सरकार के खिलाफ काफी गुस्सा है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मैं तेलंगाना की जनता को आश्वस्त करते हुए कहना चाहता हूँ कि भारतीय जनता पार्टी एक ऐसे तेलंगाना का निर्माण करेगी जहां न तो दलितों और आदिवासियों पर अत्याचार होगा और न ही किसानों पर गोलियां चलाई जायेगी, ही उन्हें हथकड़ियां पहनाई जायेगी। उन्होंने कहा कि एक आंकड़े के अनुसार पिछले साढ़े चार सालों में तेलंगाना में 4200 से अधिक किसान आत्महत्या करने को विवश हुए हैं, आखिर इसका जिम्मेदार कौन है? उन्होंने कहा कि एक ओर टीआरएस सरकार की गलत नीतियों के कारण तेलंगाना में किसान आत्महत्या को मजबूर हो रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भाजपा सरकार ने किसानों को उनके फसल पर लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का निर्णय लिया है।

श्री शाह ने कहा कि मोदी सरकार नेआयुष्मान भारत' योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को 5 लाख रुपये प्रतिवर्ष तक का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा देने का निर्णय लिया है जिससे स्वास्थ्य समस्याओं से लड़ने में देश के गरीबों को आसानी होगी लेकिन तेलंगाना के मुख्यमंत्री इसे राज्य में लागू नहीं कर रहे हैं क्योंकि उन्हें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की लोकप्रियता और बढ़ जाने का डर सता रहा है। अरे केसीआर जी, आज राज्य की गरीब जनता के आरोग्य पर राजनीति क्यों कर रहे हो?

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र में जब सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार थी, तब 13वें वित्त आयोग में तेलंगाना को केवल 16,597 करोड़ रुपये की राशि दी गई थी जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में राज्य के लिए 1,15,605 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। इसके अतिरिक्त अन्य केन्द्रीय योजनाओं में तेलंगाना को केंद्र की मोदी सरकार ने अलग से 115000 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत तेलंगाना के 5 लाख से अधिक गरीब महिलाओं को गैस सिलिंडर दिया गया है, लगभग 1.21 लाख घरों में बिजली पहुंचाई गई है, जन-धन योजना के तहत 90 लाख से अधिक खाते खोले गए हैं, मुद्रा बैंक योजना के तहत राज्य के 18 लाख से अधिक लाभार्थियों को 15000 करोड़ रुपये का ऋण उपलब्ध कराया गया है और हैदराबाद को 30 किमी लंबी मेट्रो की सौगात दी गई है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के हर गाँव, हर घर में बिजली, शौचालय, गैस का सिलिंडर पहुंचाया गया है। साथ ही, गरीब बच्चों और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया है। उन्होंने कहा कि गरीब लोगों को जीवन बीमा और सुरक्षा बीमा का कवर देकर उन्हें सामाजिक सुरक्षा कवच दिया गया है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के द्वारा आतंकवादियों को उन्हीं की भाषा में जवाब भी मोदी सरकार ने ही दिया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने विदेशों में देश और देशवासियों के मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि की है।

श्री शाह ने कहा कि आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में चल रही विकास यात्रा से देश के 19 राज्य जुड़ चुके हैं, तेलंगाना की जनता भी इस यात्रा से जुड़ कर राज्य में विकास का नया अध्याय लिखना चाहती है।

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Tag: Bjp | 17 | 9 | 30

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter