bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

भारतीयजनतापार्टी

(केंद्रीयकार्यालय)

6A, दीनदयाल उपाध्याय मार्ग, नई दिल्ली

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमितशाहद्वारा  हुम्नाबाद (कर्नाटक ) मेंगन्ना किसानों कोदिए गएउद्बोधन के मुख्यबिंदु

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रमोदी के नेतृत्त्व  मेंकेंद्रकी भारतीय जनता पार्टी सरकार किसानों की भलाई उनके जीवन के उत्थान के लिए कटिबद्ध है और पिछले चारसालों मेंमोदी सरकार ने इसे चरितार्थकर के दिखाया है.

**************

प्रधानमंत्रीश्रीनरेन्द्रमोदीजीनेबजटमेंकिसानोंकोलागतमूल्यकाडेढ़गुनासमर्थनमूल्यदेनेकानिर्णयलिया, जोकिसानोंकीआयकोदुगुनाकरनेकेलक्ष्यकीदिशामेंविशिष्टकदमहै.

**************

देश के गन्ना किसानों को उचित मूल्य मिल सके इसके लिए केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने चीनी के रॉ मटेरियल के आयत पर प्रतिबन्ध लगायासाथ ही, औद्योगिक उद्देश्यके लिए आयात होने वाली चीनी के रॉ मटेरियल पर इम्पोर्टड्यूटीकोबढाकरपहलेसालमेंही 40 % कियाऔरअबइसेबढाकर 100 % करदियाहै.

**************

किसानों को उनकी लागत मूल्य का डेढ़ गुनासमर्थन मूल्य देने का साहस आज से पहले किसी भी सरकारने नहीं किया।

**************

बाढ़ या सूखा के कारण पहले किसानों को जो राहत-राशि दी जाती थी उसे प्रधानमंत्रीश्रीनरेंद्रमोदीकेनेतृत्त्व  मेंकेंद्रकीभारतीयजनतापार्टीसरकारनेसत्ता में आने के पहले साल ही दो गुना किया.

**************

कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनती है तो प्रधानमंत्री सिंचाई योजना के द्वारा राज्य के सूखाग्रस्त क्षेत्रों में ढाई गुना सिंचाई सुविधा बढाने की कार्ययोजना पर हमारी सरकार काम करेगी.

**************

कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनी तो यहाँ बन्द पड़ी चीनी मिलों को अविलम्ब शुरू किया जाएगा और उप्र की तर्ज पर कर्नाटक के चीनी मिलों द्वारा गन्ना किसानों को 90 दिनों के भीतर भुगतान सुनिश्चित किया जाएगा.

**************

27 फरवरी को कर्नाटक में किसान सम्मलेन होने वाला है जिसके बाद भाजपा कार्यकर्ता हर किसान के घर जाकर एक मुट्ठी चावल लेकर खिचड़ी बनाकर यह प्रतिज्ञा लेते हुए वो अन्न ग्रहण करेंगे कि कर्नाटक की जो अगली भाजपा की सरकार होगी वह किसानों को समर्पित सरकार होगी.

**************

केंद्र में नरेन्द्र मोदी सरकार आने के बाद किसी भी उद्योगपति का कर्ज माफ़ नहीं किया गया है.

**************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज कर्नाटक के अपने सांगठनिक प्रवास के दूसरे दिन हुम्नाबाद स्थित वीरभद्रेश्वरा फंक्शन हॉल में गन्ना किसानों से विचार-विमर्शकिया. श्री शाह नेराज्य की बदहाली के लिए कांग्रेस की सिद्धारमैया  सरकार पर जम कर प्रहार किया। इसके बाद, श्री शाह ने यादगिरी जिले की सुरापुर स्थित सज्जन लेआउट में सुरापुर और यादगिरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के नवशक्ति समावेश को संबोधित किया और फिर सेदाम तालुका के श्री मनिकेश्वरी मठ में कोली समुदाय से संवाद किया। अपने व्यस्त कार्यक्रमों में भाजपा अध्यक्ष ने जहां गुलबर्गा के एनवी मैदान में अनुसूचित जाति सम्मलेन को संबोधित किया वहीँ पीडीए इंजीनियरिंग कॉलेज ऑडिटोरियम में व्यापारियों और उद्योगपतियों से भी संवाद स्थापित किया। इन सभी कार्यक्रमों से पूर्व उन्होंने बीदर के रेकुल्गी स्थित बुद्ध विहार में भगवान बुद्ध की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।इसके बाद,मंगाल्गी गाँव में आत्महत्या करने वाले कृषक स्वर्गीय शिवराज बासालिंगप्पा अलरेड्डी के घर उनके शोक-संतप्त परिवारजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना भी दीं।

कर्नाटक के गन्ना किसान बहुल क्षेत्रहुम्नाबादमें किसानों से परिसंवाद स्थापित करने के दौरान भाजपा अध्यक्ष ने किसानों की समस्याएँ सुनीं और केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा देश के किसान कल्याण के लिए उठाये गए महत्वपूर्ण क़दमों का विस्तार सेउल्लेख भी किया. किसानों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्रीश्रीनरेंद्रमोदीकेनेतृत्त्व  मेंकेंद्रकीभारतीयजनतापार्टीसरकारकिसानोंकीभलाईउनकेजीवनकेउत्थानकेलिएकटिबद्धहैऔरपिछलेचारसालोंमेंमोदीसरकारनेइसेचरितार्थकरकेदिखायाहै.उन्होंने कहा कि देश के गन्ना किसानों को उचित मूल्य मिल सके इसके लिए केंद्र सरकार ने चीनी के रॉ मटेरियल के आयत पर प्रतिबन्ध लगायासाथ ही, औद्योगिकउद्देश्यकेलिएआयातहोनेवालीचीनीकेरॉमटेरियलपरइम्पोर्टड्यूटीकोबढाकरपहलेसालमेंही 40 % कियाऔरअबइसेबढाकर 100 % करदियाहै.. गन्ना के सह-उत्पाद इथेनोल को पेट्रोल में 10 फीसदी मिलाना भी हमने अनिवार्य किया ताकि किसानों का इथेनोल बिक सके और उन्हें इसकी उचित कीमत मिल सके. इसके अतिरिक्त, इथेनोल की जो कीमत पहले 11 रूपये के आसपास होती थी उसकी कीमत 48 रूपये तक लाने का काम भी हमारी सरकार ने किया ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर हो.

भाजपा शासित राज्यों में उप्र का जिक्र करते हुए श्री शाह ने कहा कि वहां के गन्ना किसानों को गन्ने का भुगतान गन्ने की बुवाई के 90 दिन के भीतर करने का क़ानून वहां की राज्य सरकार ने अमल में लाया और वर्तमान सीजन में किसानों के सभी पैसों का भुगतान हो गया है तथा पुराना बकाया भी काफी हद तक समाप्त कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद सीधा किसानों के खातों में 6 हज़ार करोड़ का बकाया भी भेजने का काम भाजपा सरकार ने किया है.

श्री शाह ने उपस्थित किसानों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि यदि कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनी तो यहाँ बन्द पड़ी चीनी मिलों को अविलम्ब शुरू किया जाएगा और उप्र की तर्ज पर कर्नाटक के चीनी मिलों द्वारा गन्ना किसानों को 90 दिनों के भीतर भुगतान सुनिश्चित किया जाएगा. केंद्र की पूर्व यूपीए सरकार पर तंज कसते हुए श्री शाह ने कहा कि यूपीए काल में दलहन का आयात कर कमीशन खाई जाती थी जबकि केंद्र में भाजपा की सरकार आने के बाद हमने दलहन की बुवाई बढ़ाई और उसे एमएसपी पर खरीदने की पद्धति की शुरुवात भी की. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि किसानोंकोउनकीलागतमूल्यकाडेढ़गुनासमर्थनमूल्यदेनेकासाहसआजसेपहलेकिसीभीसरकारनेनहींकिया। कांग्रेस सरकारें किसानों के नाम पर वोट लेकर सत्ता में आती रही लेकिन किसी ने किसानों के लिए डेढ़ गुना समर्थन मूल्य घोषित नहीं किया। उन्होंने कहा किप्रधानमंत्रीश्रीनरेन्द्रमोदीजीनेबजटमेंकिसानोंकोलागतमूल्यकाडेढ़गुनासमर्थनमूल्यदेनेकानिर्णयलिया, जोकिसानोंकीआयकोदुगुनाकरनेकेलक्ष्यकीदिशामेंविशिष्टकदमहै. उन्होंने कहा कि कई ऐसी योजनायें हैं जो राज्य सरकार के सहयोग के बिना किसानों तक नहीं पहुंचाई जा सकती लेकिन केंद्र की किसान कल्याणकारी योजनाओं को कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार जनता तक पहुँचने ही नहीं देती। श्री शाह ने कहा कि आजादी के बाद से ही देश के किसानों को यूरिया की कमी से जूझना पड़ता था लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने यूरिया को नीम कोटेड करने की पहल की जिससे इसकी कालाबाजारी रुकी और किसानी को राहत मिली. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सिंचाई योजना के अंतर्गत देश के 16 लाख हेक्टेयर भूमि को सिंचाई सुविधा पहुंचाने का प्रबंध है लेकिन सिद्धारमैया सरकार द्वेषवस इसे जमीनी स्तर पर कार्यान्वित नहीं कर रही है. श्री शाह ने उपस्थित किसानों को आश्वासन देते हुए कहा कि यदि कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनती है तो प्रधानमंत्री सिंचाई योजना के द्वारा राज्य के सूखाग्रस्त क्षेत्रों में ढाई गुना सिंचाई सुविधा बढाने की कार्ययोजना पर हमारी सरकार काम करेगी. श्री शाह ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले पचास साल में पहली बार इस योजना को वैज्ञानिक तरीके से बनाने का प्रयास किया गया है और इसमें जो भी खामियां हैं उसपर सांसदों से राय मांगी गयी हैं साथ ही, इसकी प्रक्रिया को सुधारने के लिए एक कमिटी भी गठित की गयी और संभवतः चार-पांच माह में यह योजना अपने नए स्वरूप में लागू हो जायेगी जिसके अंतर्गत हर किसान को उनकी फसल का बीमा मिल सकेगा. उन्होंने कहा कि बाढ़ या सूखा के कारण पहले किसानों को जो राहत-राशि दी जाती थी उसे भाजपा की सरकार ने सत्ता में आने के पहले साल ही दो गुना किया और 1 हक्टेयर की जगह 4 हेक्टेयर भूमि तक मदद करने की व्यवस्था भी की.

श्री शाह ने कहा कि 27 फरवरी को कर्नाटक में किसान सम्मलेन होने वाला है जिसमें प्रधानमंत्री स्वयं मौजूद रहेंगे. इसके बाद भाजपा के कार्यकर्ता हर किसान के घर जाकर एक मुट्ठी चावल लेकर खिचड़ी बनाकर यह प्रतिज्ञा लेते हुए वो अन्न ग्रहण करेंगे कि  कर्नाटक की जो अगली भारतीय जनता पार्टी की सरकार होगी वह किसानों को समर्पित और किसानों के लिए काम करने वाली सरकार होगी. भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के झूठे आरोपों का करार जवाब देते हुए कहा कि केंद्र में नरेन्द्र मोदी सरकार आने के बाद किसी भी उद्योगपति का कर्ज माफ़ नहीं किया गया है. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को चुनौती देते हुए कहा कि यदि उनके पास इससे सम्बंधित कोई रिकॉर्ड हो तो उसे सार्वजनिक करें, मैं उसका जवाब देने और कर्नाटक के किसानों से माफ़ी मांगने को तैयार हूँ.

(महेंद्रपांडेय)

कार्यालय सचिव  

 

Tag: 11

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter