bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह के बिहार के पीरपैंती, भागलपुर और रोसड़ा के बैजनाथपुर की रैली में दिए गए संबोधन के मुख्य अंश

भाजपा का बिहारी ही बनेगा मुख्यमंत्री: अमित शाह
*********** 
हम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में बिहार में विकास का परिवर्तन लाने के लिए दृढ़प्रतिज्ञ हैं: अमित शाह
***********
श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता गरीबों, पिछड़ों और दलितों के जीवन-स्तर में सुधार लाना है: अमित शाह
**********
बिहार का विकास प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ही संभव है: अमित शाह
***********
हिन्दुस्तान के विकास के मूल में बिहार के युवाओं के पसीने की महक: अमित शाह
***********
बिहार की जनता अब विकास चाहती है: अमित शाह
***********
श्री नीतीश कुमार खुद को बिहार समझने की भूल कर बैठे हैं और इस बार बिहार की जनता उन्हें करारा जवाब देगी: अमित शाह
***********
श्री नीतीश कुमार के एक कंधे पर जंगलराज के प्रतीक श्री लालू जी और दूसरे कंधे पर 12 लाख करोड़ का घोटाला करनेवाली कांग्रेस, तो बिहार का विकास कैसे: अमित शाह
***********
श्री नीतीश कुमार केवल मुखौटा हैं, पूरी कवायद तो बिहार में जंगलराज पार्ट-2 की वापसी का है: अमित शाह
***********
भाजपा हमेशा विकास की राजनीति करती है, अगड़ों-पिछड़ों की नहीं: अमित शाह
***********
भारतीय जनता पार्टी हमेशा से आरक्षण की समर्थक रही है और इसमें किसी भी प्रकार के परिवर्तन की कोई गुंजाइश नहीं है: अमित शाह
**********
 
 
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज मंगलवार को बिहार के पीरपैंती, भागलपुर और रोसड़ा के बैजनाथपुर में विशाल जन-समुदाय को सम्बोधित किया और इस बार के बिहार विधान सभा चुनाव में जनता से राज्य में दो तिहाई की बहुमत से भाजपा की अगुआई में राजग सरकार बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि बिहार इस बार परिवर्तन के लिए प्रतिबद्ध है।
 
भाजपा अध्यक्ष ने नीतीश कुमार पर नेतृत्व के सवाल पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार भाजपा में नेतृत्व की कोई कमी नहीं है और भाजपा के पास ऐसे कई सारे सक्षम, ओजस्वी और ऊर्जावान नेताओं की श्रृंखला है जो बिहार को विकास की एक नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए कृतसंकल्प हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का बिहारी ही राज्य का मुख्यमंत्री बनेगा।
 
श्री शाह ने कहा कि मूल बात यह है कि श्री नीतीश कुमार खुद को बिहार समझने की भूल कर बैठे हैं और इस बार बिहार की जनता उन्हें करारा जवाब देगी। उन्होंने जनता से सवाल किया कि जिसके एक कंधे पर जंगलराज के प्रतीक श्री लालू जी हों और दूसरे कंधे पर 12 लाख करोड़ का घोटाला करनेवाली कांग्रेस हो, तो वह बिहार में विकास कैसे कर सकते हैं? उन्होंने कहा कि श्री नीतीश कुमार एक अहंकारी मुख्यमंत्री हैं और उन्होंने प्रधानमंत्री बनने की अति महत्त्वाकांक्षा में भाजपा के साथ विकास का गठबंधन तोड़ लिया और फिर से अपने धुर-विरोधी और बिहार को जंगलराज का दंश देनेवाले श्री लालू प्रसाद यादव से हाथ मिला लिया। श्री शाह ने कहा कि श्री नीतीश कुमार ने बिहार की जनता के साथ विश्वासघात किया है। उन्होंने जनता को इनकी चालबाजी से सचेत करते हुए कहा कि श्री नीतीश कुमार केवल मुखौटा हैं, पूरी कवायद तो बिहार में जंगलराज पार्ट-2 की वापसी का है। उन्होंने श्री नीतीश कुमार को इस्तीफा तैयार रखने की सलाह देते हुए कहा कि बिहार की जनता इस बार आपके खोखले वादों के झांसे में आनेवाली नहीं है और उन्होंने इस बार दिल से बिहार में श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की अगुआई में पूर्ण बहुमत वाली राजग सरकार बनाने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि हम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में बिहार में विकास का परिवर्तन लाने के लिए दृढ़प्रतिज्ञ हैं।
 
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बिहार में संशाधनों की कोई कमी नहीं है, यहाँ माँ गंगा की अहैतु कृपा है, यहां की धरती उर्वरा शक्ति से भरपूर है, मेहनती किसान हैं, मेधावी छात्र है, फिर भी बिहार विकास के मामले में इतना पीछे क्यों है?  उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान के विकास के मूल में बिहार के युवाओं के पसीने की महक है, बिहार के युवाओं ने देश को बनाया, लेकिन वह बिहार को समृद्ध क्यों बना नहीं पाये? उन्होंने कहा कि इसकी एक ही वजह है और वह है बिहार के विकास के लिए, बिहार के गरीबों के कल्याण के लिए काम करनेवाले एक समर्पित सरकार की।
 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने बिहार के विकास के लिए एक ही बार में 1.65 लाख करोड़ रुपये की राशि राज्य को दी है जो बिहार सरकार के 3 साल के कुल बजट के बराबर है लेकिन जंगलराज और भ्रष्टाचार के सहयोग से चलनेवाली श्री नीतीश कुमार की वर्तमान सरकार इस विशेष पैकेज को बिहार के विकास में लगा पाएगी, इसमें संदेह है। उन्होंने जनता से कहा कि कांग्रेस ने बिहार के विकास के लिए अब तक क्यों विशेष पैकेज नहीं दिया, श्री लालू जी क्यों अब तक विकास के  लिए कुछ नहीं कर पाये, क्यों श्री नीतीश कुमार पिछले 10 वर्षों में तत्कालीन कांग्रेस की केंद्र सरकार से बिहार में विकास का परिवर्तन लाने के लिए कोई राशि नहीं ला पाये और अब वह विकास की बात करते है? श्री शाह ने कहा कि बिहार की जनता ने श्री लालू जी के 15 वर्ष के शासनकाल में नरसंहार देखा है, राज्य के पिछड़ों और दलितों ने अत्याचार का दंश झेला है, लूट, अपहरण, फिरौती और हत्याओं का काला दौर देखा है, बिहार की जनता अब फिर से झूठे वादे का ढिंढोरा पीटने वाले इन नेताओं के बहकावे में आनेवाली नहीं है। उन्होंने कहा कि श्री शाह ने कहा कि बिहार की जनता अब विकास चाहती है, रोजगार चाहती है, अच्छी शिक्षा चाहती है, अपने फसलों का उचित मूल्य चाहती है, अच्छी सुविधाओं वाले अस्पताल चाहती है। श्री शाह ने कहा कि राज्य में एक ऐसी लोक कल्याणकारी सरकार की आवश्यकता है जो केंद्र से कंधे-से-कंधा मिलकर काम कर सके और बिहार में विकास की बयार ला सके और यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ही संभव है।
 
श्री शाह ने कहा कि यह आपका ही प्यार और आशीर्वाद था कि एक गरीब और पिछड़े परिवार का बेटा आज भारत का प्रधानमंत्री है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 महीनों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में गरीबों, पिछड़ों और दलितों के कल्याण के लिए अनेकों लोक कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की गई है, चाहे 1 साल में ही 15 करोड़ परिवारों का प्रधानमंत्री जन-धन सुरक्षा योजना के तहत बैंक खाता खोलना हो या 12 रुपये सालाना में जीवन सुरक्षा योजना हो या 330 रुपये सालाना में जीवन बीमा हो या छोटे मोटे रोजगार के लिए मुद्रा बैंक योजना के तहत बिना गारंटी के आसान ऋण उपलब्ध कराने की बात हो, हमारी सारी योजनाएं गरीबों के कल्याण के लिए ही समर्पित हैं और श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता गरीबों, पिछड़ों और दलितों के जीवन-स्तर में सुधार लाना है। 
 
श्री शाह ने कांग्रेस, राजद और जद (यू) के शासनकाल पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि बिहार में लगातार इनका शासन रहने के बावजूद आज बिहार बदहाल क्यों है, क्यों आज भी गाँवों तक बिजली नहीं पहुँची है, क्यों अभी भी गाँवों तक सड़कें नहीं पहुँची है, क्यों बिहार की स्वास्थ्य सेवायें बदहाल हैं, क्यों बिहार के युवाओं को पढ़ाई और रोजगार के लिए बिहार से बाहर जाने पर विवश होना पड़ता है, क्यों बिहार के स्कूली शिक्षा की हालत इतनी दयनीय है? श्री शाह ने कहा कि श्री नीतीश कुमार, श्री लालू यादव और कांग्रेस के पास इसका कोई जवाब नहीं है और उनका विकास का दावा विश्वसनीयता से काफी परे है। 
 
श्री शाह ने कहा कि बिहार की जनता ने बारी-बारी से सबको मौक़ा देकर देख लिया, इस बार बिहार की जनता ने राज्य में भाजपा-नीत राजग की सरकार बनाना तय कर लिया है क्योंकि बिहार में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ही विकास संभव है। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए क्योंकि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में हमने यह करके दिखाया है। श्री शाह ने कहा कि यही कारण है कि जनता बारम्बार हमें जनादेश देती है। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा विकास की राजनीति करती है, अगड़ों-पिछड़ों की नहीं। उन्होंने कहा कि बिहार का विकास करना हमारा दायित्व है और हम इसे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पूरा करके ही दम लेंगें।
 
महागठबंधन के नेताओं पर आरक्षण पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जनता के बाच लगातार भाजपा के आरक्षण विरोधी होने का भ्रम फैलाया जा रहा है। श्री शाह ने कहा कि श्री नीतीश कुमार और श्री लालू यादव केवल सत्ता के लिए सफेद झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हमेशा से आरक्षण की समर्थक रही है और इसमें किसी भी प्रकार के परिवर्तन की कोई गुंजाइश नहीं है। 
 
भाजपा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं का भी आह्वान करते हुए कहा कि आप बिहार से जंगलराज, कुशासन और भ्रष्टाचार की सरकार को जड़ से उखाड़ कर राज्य में श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की अगुआई में राजग की लोक कल्याणकारी सरकार बनाने के लिए दृढ संकल्पित हो जाएं।
 
श्री शाह ने कहा कि अगर बिहार में 24 घंटे बिजली चाहिए, बिहार में निवेश चाहिए, महिलाओं का सम्मान चाहिए, कानून व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए, रोजगार के पर्याप्त अवसर बनने चाहिए, यदि राज्य को अपराध, भ्रष्टाचार और जंगलराज से मुक्ति चाहिए तो बिहार की जनता को एकमत से फैसला करके राज्य में दो-तिहाई की पूर्ण बहुमत से भाजपा-नीत सरकार बनानी होगी। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं।
 
(इंजी अरुण कुमार जैन)
कार्यालय सचिव
 

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter