bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility
 

भारतीय जनता पार्टी

(केंद्रीय कार्यालय)

11, अशोक रोड, नई दिल्ली - 110001

फोन: 011-23005700, फैक्स: 011-23005787

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा मोहनपुर, चावमानु और तेलियामुरा (त्रिपुरा) में आयोजित रैली में दिये गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


त्रिपुरा में परिवर्तन की बयार अब साफ़ दिखाई दे रही है और “चलो पलटाई" का नारा त्रिपुरा की वामपंथी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिये यहाँ के हर वयक्ति की जुबाँ पर है। त्रिपुरा की जनता से मिल रहे अपार प्यार, स्नेह और समर्थन यह निश्चित है कि राज्य में अगली सरकार भारतीय जनता पार्टी की बनने वाली है

**********

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी त्रिपुरा को पांच साल में देश का एक मॉडल स्टेट बनाने के लिए कृतसंकल्पित है

**********

मैं त्रिपुरा की जनता को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के गठन के अगले ही दिन प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ दे दिया जाएगा

**********

त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही प्रदेश में न्यूनतम मजदूरी को मोदी सरकार की तर्ज पर 340 रुपये प्रतिदिन कर दिया जाएगा

**********

त्रिपुरा में भाजपा सरकार बनने पर हर घर में एक रोजगार दिया जाएगा, कम्युनिकेशन के लिए सभी युवाओं को स्मार्टफोन से लैश किया जाएगा और महिलाओं को ग्रेजुएशन तक की शिक्षा मुफ्त दी जायेगी

**********

हम त्रिपुरा में हिंसा की राजनीति ख़त्म कर विकास की राजनीति का परिवर्तन लाना चाहते हैं

**********

कांग्रेस को भी पता है कि वह त्रिपुरा में स्पर्द्धा में कहीं भी नहीं है लेकिन वह एक वोटकटवा पार्टी के रूप में सीपीएम को जिताने चुनाव में खड़ी है, कांग्रेस को वोट देने पर आपका मत बेकार चला जाएगा

**********

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हिंसा से नहीं डरते। कल हमारे एक प्रत्याशी को लहुलूहान कर दिया गया लेकिन भारतीय जनता पार्टी इससे डरने वाली नहीं है। पार्टी कार्यकर्ता दम लगा कर मैदान में डटे रहें, एक बार त्रिपुरा में परिवर्तन हो जाय, लाल झंडे का आतंक हमेशा के लिए ख़त्म हो जाएगा

**********

त्रिपुरा में हर दिन औसतन 5 महिलाओं के खिलाफ अपराध होते हैं जिसमें से 2 बलात्कार के मामले होते हैं, इससे यह स्पष्ट है कि त्रिपुरा में क़ानून-व्यवस्था की हालत कितनी दयनीय हो चुकी है। हम माँ-बहनों को सुरक्षित कर त्रिपुरा को एक नया राज्य बनाना चाहते हैं

**********

सीपीएम वाले जनता में भ्रम फैला रहे हैं कि यदि भाजपा सरकार बनने पर त्रिपुरा का विभाजन हो जाएगा। मैं स्पष्ट करना चाहता हूँ कि त्रिपुरा का कोई विभाजन नहीं होने वाला है, त्रिपुरा जैसा है, वैसा ही रहेगा, हाँ, वह विकास में काफी आगे जरूर बढ़ेगा

**********

त्रिपुरा में बनने वाली भाजपा सरकार आदिवासी भाइयों की सामाजिक एवं सांस्कृतिक मूल्यों को संरक्षित करते हुए उन्हें आगे बढ़ाने का काम करेगी

**********

जब तक त्रिपुरा में सीपीएम की सरकार है, यहाँ विकास संभव ही नहीं है। जहां सीपीएम की सरकारें होती हैं, वहां गरीबी होती है, बेरोजगारी होती है और जहां भाजपा की सरकारें होती हैं, वहां विकास होता है

**********

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में सभी आसियान देश और बांग्लादेश के साथ संबंध काफी बेहतर हुए हैं, इससे त्रिपुरा एक इंडस्ट्री हब बन सकता है पर सीपीएम सरकार के रहते यह संभव नहीं है

**********

मैं त्रिपुरा की जनता को आश्वस्त करते हुए कहना चाहता हूँ कि राज्य में भाजपा सरकार के गठन होते ही चाहे चिटफंड घोटाले का मामला हो या फिर भ्रष्टाचार के अन्य मामले, गुनाहगारों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा

**********

मोदी सरकार ने त्रिपुरा को विकास के लिए यूपीए सरकार की तुलना में लगभग 18,000 करोड़ रुपया ज्यादा दिया है लेकिन यह पैसा त्रिपुरा की गरीब जनता की भलाई के बजाय सीपीएम कैडरों के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है

**********

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, आदिवासी, युवा एवं महिलाओं के कल्याण के लिए लगभग 112 योजनायें शुरू की हैं ताकि त्रिपुरा को एक मॉडल स्टेट बनाया जा सके लेकिन त्रिपुरा की माणिक सरकार की सरकार इन योजनाओं को राज्य में लागू नहीं होने देती

**********


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज मोहनपुर, चावमानु और तेलियामुरा (त्रिपुरा) में आयोजित विशाल जनसभाओं को संबोधित किया और राज्य की जनता से त्रिपुरा को महरूम रखने वाली मानिक सरकार की सरकार को उखाड़ फेंक कर प्रदेश का विकास करने वाली भारतीय जनता पार्टी गठबंधन की सरकार बनाने का आह्वान किया। इससे पहले श्री शाह ने बमुतिया से मोहनपुर तक एक भव्य रोड शो किया जिसमें त्रिपुरा में परिवर्तन का संकल्प लिए जनता की अपार भीड़ उमड़ी।

भाजपा अध्यक्ष ने “चलो पलटाई” का नारा देते हुए कहा कि हम त्रिपुरा में मुख्यमंत्री, मंत्री अथवा विधायक बदलने के लिए नहीं बल्कि हम त्रिपुरा के गाँव, गरीब, किसान, महिला एवं नौजवानों की स्थिति में व्यापक सुधार लाने के लिए परिवर्तन लाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हम युवाओं को रोजगार देना चाहते है, महिलाओं को सुरक्षा देना चाहते हैं, मजदूरों को उनका हक़ देना चाहते हैं और राज्य को एक मॉडल स्टेट बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में परिवर्तन की बयार अब साफ़ दिखाई दे रही है और “चलो पलटाई" का नारा त्रिपुरा की वामपंथी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिये यहाँ के हर वयक्ति की जुबाँ पर है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा की जनता से मिल रहे अपार प्यार, स्नेह और समर्थन यह निश्चित है कि राज्य में अगली सरकार भारतीय जनता पार्टी की बनने वाली है, इसमें कोई संशय नहीं है।

श्री शाह ने कहा कि मैं त्रिपुरा की जनता को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के गठन के अगले ही दिन प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार की हितैषी त्रिपुरा की सीपीएम सरकार कहती है कि वह कर्मचारियों की हितैषी है, मजदूरों की हितैषी है, किसानों की हितैषी है लेकिन आज भी त्रिपुरा में चौथे वेतन आयोग के हिसाब से कर्मचारियों को वेतन मिलता है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने मजदूरों के लिए 340 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से न्यूनतम वेतन तय किया है जबकि त्रिपुरा में मजदूरों को केवल 170 रुपये मिल रहे हैं।  उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही प्रदेश में न्यूनतम मजदूरी को मोदी सरकार की तर्ज पर 340 रुपये प्रतिदिन कर दिया जाएगा।

श्री शाह ने कहा कि हम त्रिपुरा में हिंसा की राजनीति ख़त्म कर विकास की राजनीति का परिवर्तन लाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध में त्रिपुरा काफी आगे है, देश में कहीं भी महिलाओं के खिलाफ इतने अपराध नहीं होते। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में हर साल होने वाले गुनाहों का लगभग तीन-चौथाई अपराध केवल माताओं-बहनों के खिलाफ होता है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में हर दिन लगभग 5 महिलाओं के खिलाफ अपराध होते हैं जिसमें से 2 बलात्कार के मामले होते हैं, इससे यह स्पष्ट है कि त्रिपुरा में क़ानून-व्यवस्था की हालत कितनी दयनीय हो चुकी है। उन्होंने कहा कि हम माँ-बहनों को सुरक्षित कर त्रिपुरा को एक नया राज्य बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर महिलाओं को ग्रेजुएशन तक की शिक्षा मुफ्त दी जायेगी।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि त्रिपुरा में लेनिन और स्टालिन की जयंती तो मनाई जाती है लेकिन श्री रबीन्द्रनाथ टैगोर, स्वामी विवेकानंद और महाराजा वीर विक्रम देव की जयंती कभी नहीं मनाई जाती। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा के एयरपोर्ट को वीर विक्रम देव के नाम पर किया जाना चाहिए लेकिन त्रिपुरा की वामपंथी सरकार को राज्य के गौरव की कोई परवाह नहीं है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा की सीपीएम सरकार ने जनजातियों के साथ बड़ा भेदभाव किया है, आदिवासी भाइयों के सांस्कृतिक मूल्यों को रोकने का काम किया है और उनके महान इतिहास को दबाने का काम किया है। उन्होंने आदिवासी भाइयों का आह्वान करते हुए कहा कि राज्य में बनने वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार आदिवासी भाइयों की सामाजिक एवं सांस्कृतिक मूल्यों को संरक्षित करते हुए उन्हें आगे बढाने का काम करेगी।

श्री शाह ने कहा कि  जब तक त्रिपुरा में सीपीएम की सरकार है, यहाँ का विकास संभव ही नहीं है। उन्होंने कहा कि जहां सीपीएम की सरकारें होती हैं, वहां गरीबी होती है, बेरोजगारी होती है और जहां भाजपा की सरकारें होती हैं, वहां पर विकास होता है। उन्होंने कहा कि आज त्रिपुरा में लगभग 7.33 लाख लोग बेरोजगार हैं जो रजिस्टर्ड हैं। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी  की सरकार बनने पर हर घर में एक रोजगार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार बनने पर कम्युनिकेशन के लिए सभी युवाओं को स्मार्टफोन से लैश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीपीएम द्वारा यह अफवाह फैलाई जा रही है कि यदि त्रिपुरा में भाजपा सरकार आयेगी तो मनरेगा बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने तो मनरेगा के लिए और अधिक बजट आवंटित किया है लेकिन त्रिपुरा में मनरेगा का पैसा सीपीएम कैडरों के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार बनने पर गरीबों के हक़ के पैसा सीधे गरीबों तक पहुंचाया जाएगा।  

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी त्रिपुरा को पांच साल में देश का एक मॉडल स्टेट बनाने के लिए कृतसंकल्पित है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा का विकास न तो माणिक सरकार की वामपंथी सरकार कर सकती है और न ही कांग्रेस, त्रिपुरा का विकास केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को भी पता है कि वह त्रिपुरा में स्पर्द्धा में कहीं भी नहीं है लेकिन वह एक वोटकटवा पार्टी के रूप में चुनाव मैदान में सीपीएम को जिताने के लिए खड़ी है, कांग्रेस को वोट देने पर आपका मत बेकार चला जाएगा। उन्होंने राज्य की जनता से अपील करते हुए कहा कि यदि आपको सीपीएम के भ्रष्टाचार और कुशासन से मुक्ति चाहिए, माणिक सरकार की सरकार से मुक्ति चाहिए और त्रिपुरा का विकास चाहिए तो एक ही विकल्प है - भारतीय जनता पार्टी।

श्री शाह ने कहा कि वामपंथी पार्टियां झूठ फैलाने में काफी माहिर है। उन्होंने कहा कि सीपीएम वाले जनता में भ्रम फैला रहे हैं कि यदि त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो त्रिपुरा का विभाजन हो जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं स्पष्ट करना चाहता हूँ कि त्रिपुरा का कोई विभाजन नहीं होने वाला है, त्रिपुरा जैसा है, वैसा ही रहेगा और उसका विकास होगा। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में माणिक सरकार की सरकार की उदासीनता के कारण त्रिपुरा में उद्योग-धंधों का विकास नहीं हुआ जबकि देश में जहां-जहां भाजपा सरकारें हैं, वहां उद्योग-धंधों का जाल बिछाया गया है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी उद्योग लगाने के लिए एक माकूल माहौल तैयार करती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में सभी आसियान देश और बांग्लादेश के साथ संबंध काफी बेहतर हुए हैं, इससे त्रिपुरा देश का एक इंडस्ट्री हब बन सकता है लेकिन यह सीपीएम सरकार के रहते बिलकुल भी संभव नहीं है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने त्रिपुरा की सीपीएम सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी हुई है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा की गरीब जनता का पैसा रोजवैली और ऐसे चिटफंड कंपनियों के माध्यम से कैडरों ने लूट लिया है लेकिन माणिक सरकार इसकी जांच नहीं कराना चाहते। उन्होंने कहा कि मैं त्रिपुरा की जनता को आश्वस्त करते हुए कहना चाहता हूँ कि राज्य में भाजपा सरकार के गठन होते ही चाहे चिटफंड घोटाले का मामला हो या फिर भ्रष्टाचार के अन्य मामले, गुनाहगारों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि गरीबों की गाढ़ी कमाई जिसने भी हड़पी है, उसे बख्शा नहीं जाएगा।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि  प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने त्रिपुरा के विकास के लिए कई काम किये हैं लेकिन राज्य की माणिक सरकार इसे जनता तक पहुंचने ही नहीं देती क्योंकि उन्हें प्रधानमंत्री जी लोकप्रियता के बढ़ने का डर होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार (कम्युनिस्ट पार्टी समर्थित सरकार) ने 13वें वित्त आयोग के पांच वर्ष में त्रिपुरा को केंद्रीय करों में हिस्सेदारी के तौर पर जहां केवल लगभग 7,283 करोड़ रुपये ही दिए, वहीं मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में त्रिपुरा को लगभग साढ़े तीन गुना ज्यादा 25,396 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने त्रिपुरा को यूपीए सरकार की तुलना में लगभग 18,000 करोड़ रुपया ज्यादा दिया है लेकिन यह पैसा त्रिपुरा की गरीब जनता की भलाई के बजाय सीपीएम कैडरों के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त मोदी सरकार ने त्रिपुरा को स्मार्ट सिटी के लिए 189 करोड़, स्वच्छ भारत मिशन के लिए 8 करोड़, अर्बन ट्रांसपोर्ट के लिए 22 करोड़, गरीबों के आवास के लिए 257 करोड़, ITI अपग्रेडेशन के लिए 123 करोड़, पर्यटन हेतु नार्थ-ईस्ट त्रिपुरा सर्किट के लिए 133 करोड़ और सड़कों के के लिए 99 करोड़ रुपये दिए हैं। उन्होंने कहा कि मैं माणिक सरकार से कहना चाहता हूँ कि हम तो अपना हिसाब लेकर आये हैं लेकिन आप अपने 25 वर्षों के कार्यकाल का हिसाब क्यों नहीं देते?

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, आदिवासी, युवा एवं महिलाओं के कल्याण के लिए लगभग 112 योजनायें शुरू की हैं ताकि त्रिपुरा को एक मॉडल स्टेट के रूप में डेवलप किया जा सके लेकिन त्रिपुरा की माणिक सरकार की सरकार इन योजनाओं को राज्य में लागू नहीं होने देती। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने हर गरीब को हेल्थ इंश्योरेंस देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा को एक ऐसी सरकार की जरूरत है जो प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ कंधे-से-कंधा मिलाते हुए त्रिपुरा को विकास के पथ पर अग्रसर करे और यह केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि त्रिपुरा का इतिहास हमें मालूम है, यहाँ जनता को वोट नहीं देने दिया जाता लेकिन सीपीएम को यह नहीं भूलना चाहिए कि इस बार उनका मुकाबला कांग्रेस से नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी से है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हिंसा से नहीं डरते। उन्होंने कहा कि कल हमारे एक प्रत्याशी को लहुलूहान कर दिया गया लेकिन भारतीय जनता पार्टी इससे डरने वाली नहीं है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि आप दम लगा कर मैदान में डटे रहिये, एक बार त्रिपुरा में परिवर्तन करा दीजिये, लाल झंडे का आतंक त्रिपुरा में इसके बाद दिखेगा भी नहीं।


(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

 
 
 
 
Tag: 11 | 110001 | 7 | 8

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter