bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा मुंबई, महाराष्ट्र में आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

कई सरकारें 50 साल में एक-दो ऐतिहासिक काम करती है, मोदी सरकार ने तीन साल में 50 काम ऐसे किये हैं जो ऐतिहासिक हैं
**********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने तीन साल में 106 लोक-कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की है और इसे समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया है
**********
देश में लगभग 1650 छोटी-बड़ी पार्टियों में से आज सिर्फ और सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जिसके अंदर आतंरिक लोकतंत्र बचा हुआ है। यदि पार्टी के अंदर ही लोकतंत्र नहीं है तो वह देश का भला कभी नहीं कर सकती
**********
कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह सब लोगों को पता है लेकिन भारतीय जनता पार्टी का अगला लक्ष्य कौन होगा, यह किसी को मालूम नहीं है, यही बताता है कि भारतीय जनता पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र कितना मजबूत है
**********
भारतीय जनता पार्टी में अध्यक्ष वंश परंपरा अथवा जाति के आधार पर तय नहीं होते बल्कि योग्यता, पार्टी के सिद्धांतों के प्रति निष्ठा और परिश्रम के आधार पर तय होते हैं
**********
भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जहां एक बूथ कार्यकर्ता भी पार्टी का अध्यक्ष बन सकता है और एक गरीब परिवार का बेटा व पार्टी का एक छोटा सा कार्यकर्ता देश का प्रधानमंत्री
**********
यदि देश के लोकतंत्र में से वंशवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति को निकाल फेंकना है तो हमें एक ऐसी पार्टी के हाथ में देश की सत्ता देनी होगी जिसका आतंरिक लोकतंत्र मजबूत हो
**********
भारतीय जन संघ की स्थापना सिद्धांतों के आधार पर देश को एक वैकल्पिक नीति देने के लिए हुई थी और भाजपा आज भी उन्हीं नीतियों पर चल रही है। हम उस वक्त भी कहते थे - पहले देश, बाद में दल और उसके बाद व्यक्ति, हम आज भी कहते हैं - पहले देश, बाद में दल और उसके बाद व्यक्ति
**********
भारतीय जन संघ से भारतीय जनता पार्टी की यात्रा सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के एकात्म मानववाद अंत्योदय के सिद्धांत की यात्रा रही है
**********
कांग्रेस और भारतीय जन संघ की विचारधारा में एक बड़ा मूल अंतर यह था कि कांग्रेस देश का नवनिर्माण करना चाहती थी जबकि भारतीय जन संघ देश की प्राचीन सांस्कृतिक विरासत और गौरवशाली वैभव के आधार पर देश का पुनर्निर्माण करना चाहती थी
**********
जीडीपी के चारों सेगमेंट में सबसे कठिन सेगमेंट है कृषि विकास दर को बढ़ाना और महाराष्ट्र में देवेन्द्र फड़णवीस सरकार ने केवल ढाई साल में कृषि विकास दर को -8% से 20% पॉजिटिव ग्रोथ दिलाने में सफलता प्राप्त की है, यही बताता है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकारें कैसे काम करती है
**********
कांग्रेस सरकार में 13वें वित्त आयोग के समय सेन्ट्रल टैक्स में महाराष्ट्र की हिस्सेदारी 74,104 करोड़ रुपये थी जबकि मोदी सरकार में 14वें वित्त आयोग में यह 2,19,165 करोड़ रुपये हो गयी है। ग्रांट इन ऐड के रूप में महाराष्ट्र को तब 16,331 करोड़ रुपये मिले थे, अब यह 33,595 करोड़ रुपये हो गई है
**********
देश की जनता यह महसूस कर रही है कि आज देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक ऐसी सरकार चल रही है जो संवेदनशील, पारदर्शी, भ्रष्टाचार मुक्त और निर्णायक है
**********
आजादी के 70 साल बाद भी देश में लगभग 8 करोड़ घर ऐसे थे, जहां शौचालय नहीं थे, मोदी सरकार के तीन वर्ष में ही साढ़े चार करोड़ से ज्यादा शौचालय बना कर गाँव की गरीब महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है
**********
काले-धन के दुष्प्रभाव को देश की अर्थव्यवस्था से ख़त्म करने के लिए मोदी सरकार ने कई कदम उठाये हैं, इसका परिणाम यह है कि एक ही साल में लगभग 91 लाख नए पैन कार्ड रजिस्टर हुए हैं
**********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने अपने तीन दिवसीय महाराष्ट्र प्रवास के तीसरे और अंतिम दिन आज, रविवार को मुंबई (महाराष्ट्र) के बी जे हॉल में आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित किया और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की उपलब्धियों व पार्टी की विचारधारा पर विस्तार से चर्चा की। ज्ञात हो कि श्री शाह देश के सभी राज्यों में कुल 110 दिनों के अपने विस्तृत प्रवास कार्यक्रम के तहत अभी महाराष्ट्र में हैं। इससे पहले श्री शाह ने मुंबई के सह्याद्रि गेस्ट हाउस में पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष एवं कार्य विस्तारक योजना के तहत महाराष्ट्र में चल रहे कार्यक्रमों की समीक्षा की।

श्री शाह ने कहा कि किसी भी मल्टीपार्टी डेमोक्रेटिक पार्लियामेंट्री सिस्टम में किसी भी पार्टी का मूल्यांकन तीन चीजों के आधार पर होना चाहिए - पार्टी का आंतरिक लोकतंत्र, पार्टी का सिद्धांत और सत्ता में आने पर सरकार की कार्यपद्धति।

श्री शाह ने कहा कि देश में लगभग 1650 छोटी-बड़ी पार्टियों में से आज सिर्फ और सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जिसके अंदर आतंरिक लोकतंत्र बचा हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि पार्टी के अंदर ही लोकतंत्र नहीं है तो वह देश का भला कभी नहीं कर सकती लेकिन यदि पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र तो देश का लोकतंत्र भी मजबूत बना रहता है। उन्होंने कहा कि आपातकाल जैसे हालात किसी नोटिफिकेशन के जरिये नहीं, बल्कि पार्टी और नेताओं की मानसिकता के कारण आते हैं और खासकर तब जब पार्टी में आतंरिक लोकतंत्र नहीं हो। उन्होंने कहा कि देश की अधिकतर पार्टियों में सबको पता है कि उसका अगला अध्यक्ष कौन होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह सब लोगों को पता है लेकिन भारतीय जनता पार्टी का अगला लक्ष्य कौन होगा, यह किसी को मालूम नहीं है, यही बताता है कि भारतीय जनता पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र कितना मजबूत है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में अध्यक्ष वंश परंपरा अथवा जाति के आधार पर तय नहीं होते बल्कि योग्यता, पार्टी के सिद्धांतों के प्रति निष्ठा और परिश्रम के आधार पर तय होते हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जहां एक बूथ कार्यकर्ता भी पार्टी का अध्यक्ष बन सकता है और एक गरीब परिवार का बेटा व पार्टी का एक छोटा सा कार्यकर्ता देश का प्रधानमंत्री। उन्होंने कहा कि जहां लोकतंत्र मजबूत होता है, वहां योग्यता के आधार पर फैसले होते हैं, वहां बदलाव की गुंजाइश होती है और जहां बदलाव की गुंजाइश होती है, वहां कभी भी डिमेरिट्स को स्थान नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में हर तीन साल पर बूथ समिति के अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव समय पर लोकतांत्रिक तरीके से होता है। उन्होंने कहा कि यदि देश के लोकतंत्र में से वंशवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति को निकाल फेंकना है तो हमें एक ऐसी पार्टी के हाथ में देश की सत्ता देनी होगी जिसका आतंरिक लोकतंत्र मजबूत हो।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि नेहरू जी के नेतृत्व में जब देश की विकास नीति, कृषि नीति, विदेश नीति, अर्थ नीति, रक्षा नीति और शिक्षा नीति का निर्माण हो रहा था तब डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी सहित कई राष्ट्र मनीषियों को लगा कि नेहरू सरकार देश के लिए जो नीतियाँ बना रही है, उन नीतियों के रास्ते पर यदि यह देश चलता रहा तो देश काफी पीछे चला जाएगा, तब उन लोगों ने एक ऐसी वैकल्पिक नीति को राष्ट्र के सामने रखने का साहस किया जिसमें देश की मिट्टी की सुगंध हो, उस पर पाश्चात्य विचारों का प्रभाव न हो। उन्होंने कहा कि ऐसी परिस्थिति में भारतीय जन संघ की स्थापना हुई। श्री शाह ने कहा कि भारतीय जन संघ की स्थापना ही सिद्धांतों के आधार पर देश को एक वैकल्पिक नीति देने के लिए हुई थी और आज भी भारतीय जनता पार्टी आज भी उन्हीं नीतियों पर चल रही है। उन्होंने कहा कि हम उस वक्त भी कहते थे - पहले देश, बाद में दल और उसके बाद व्यक्ति, हम आज भी कहते हैं - पहले देश, बाद में दल और उसके बाद व्यक्ति। उन्होंने कहा कि उस वक्त भी हम कहते थे - ‘मुक्त व्यापार, मुक्त खेती’, हम आज भी कहते हैं ‘मुक्त व्यापार, मुक्त खेती’। उन्होंने कहा कि भारतीय जन संघ से भारतीय जनता पार्टी की यात्रा सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के एकात्म मानववाद अंत्योदय के सिद्धांत की यात्रा रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि किसी पार्टी का सिद्धांत कैसा है, यह पार्टी के कार्यक्रमों से स्पष्ट हो जाता है। उन्होंने कहा कि जन संघ से लेकर आज तक भारतीय जनता पार्टी ने जितने भी कार्यक्रम हाथ में लिए उसके पीछे देश की भलाई थी। उन्होंने कहा कि चाहे वह गौ-हत्या पर प्रतिबंध का आंदोलन हो, कच्छ बचाने का आंदोलन हो, गोवा का सत्याग्रह हो, राम जन्म भूमि का आंदोलन हो, कश्मीर को बचाने का आंदोलन हो या फिर भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई - ये सारे के सारे आंदोलन भारतीय देश की समस्याओं के समाधान के लिए हुए।

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के क्या सिद्धांत हैं, यह कोई नहीं बता सकता क्योंकि कांग्रेस पार्टी की स्थापना सिद्धांत के लिए नहीं, देश के लिए आजादी प्राप्त करने के लिए हुई थी और इसमें सभी विचारधाराओं के लोग शामिल थे, कांग्रेस आजादी प्राप्त करने के लिए एक स्पेशल पर्पस व्हीकल थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भारतीय जन संघ की विचारधारा में एक बड़ा मूल अंतर यह था कि कांग्रेस देश का नवनिर्माण करना चाहती थी जबकि भारतीय जन संघ देश की प्राचीन सांस्कृतिक विरासत और गौरवशाली वैभव के आधार पर देश का पुनर्निर्माण करना चाहती थी।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आजादी के बाद देश में 70 सालों तक जो सरकारें चली हैं उसमें देश की जनता ने चार प्रकार की सरकारें देखी है - कांग्रेस पार्टी की सरकारें, कम्युनिस्ट पार्टियों की सरकारें, क्षेत्रीय पार्टियों की सरकारें और भारतीय जनता पार्टी की सरकारें। उन्होंने कहा कि अब राजनीतिक विश्लेषकों को इन सरकारों का तुलनात्मक अध्ययन करना चाहिए कि इन सभी सरकारों में किस प्रकार का विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि जिन-जिन राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें रहीं, वहां हमने विकास के नए मापदंड स्थापित किये और राज्य के विकास की नई परिभाषा दी। उन्होंने कहा कि जीडीपी के चारों सेगमेंट में सबसे कठिन सेगमेंट है कृषि विकास दर को बढ़ाना और महाराष्ट्र में देवेन्द्र फड़णवीस सरकार ने केवल ढाई साल में कृषि विकास दर को -8% से 20% पॉजिटिव ग्रोथ दिलाने में सफलता प्राप्त की है, यही बताता है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकारें कैसे काम करती है।

श्री शाह ने कहा कि मैं आज आपको यह बताना चाहता हूँ कि सिद्धांतों के आधार पर यदि पार्टियां चलती हैं तो किस प्रकार का नेतृत्व होता है। उन्होंने कहा कि 2014 में मोदी सरकार आने के पहले जो परिस्थितियाँ थी, वह 2017 में बिलकुल बदल गई हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन की सरकार पर 12 लाख करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप थे और अब केंद्र में तीन साल से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और हमारे विरोधी भी हमपर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा पाए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार पॉलिसी पैरालिसिस से ग्रस्त थी, उस सरकार में हर मंत्री अपने आप को प्रधानमंत्री समझता था और प्रधानमंत्री को कोई प्रधानमंत्री समझता ही नहीं था।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता यह महसूस कर रही है कि आज देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की एक ऐसी सरकार चल रही है जो संवेदनशील, पारदर्शी और निर्णायक है। उन्होंने कहा कि 2014-2017 के इस सफ़र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश ने विकास की नई कहानी लिखी है, भारत दुनिया की सबसे तेज गति से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बनी है और शेयर बाजार आज़ादी के बाद अब तक के सबसे उच्च स्तर पर है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के तीन साल में 28 करोड़ से अधिक लोगों के बैंक अकाउंट खोल कर देश के गरीबों को देश के अर्थतंत्र की मुख्यधारा से जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल बाद देश में लगभग 12 करोड़ लोगों के पास ही गैस सिलिंडर थे, जिसमें से लगभग 11 करोड़ 80 लाख गैस सिलिंडर केवल शहरी क्षेत्रों में थे, मोदी सरकार ने तीन साल में ही देश के सवा दो करोड़ गरीब महिलाओं को गैस कनेक्शन देने का काम पूरा कर लिया है, पांच सालों में देश के पांच करोड़ गरीब महिलाओं के परिवार में गैस कनेक्शन पहुंचाने का बीड़ा मोदी सरकार ने उठाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गैस सिलिंडर पहुंचाकर गरीब माताओं को धुएं से मुक्त करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि मुद्रा बैंक के माध्यम से देश के लगभग 7.64 करोड़ लोगों को रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराये गए हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आजादी के 70 साल बाद भी देश में लगभग 8 करोड़ घर ऐसे थे, जहां शौचालय नहीं थे, मोदी सरकार के तीन वर्ष में ही साढ़े चार करोड़ से ज्यादा शौचालय बना कर गाँव की गरीब महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है।

श्री शाह ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के माध्यम से अपने देश की सुरक्षा के प्रति सजग और एक मजबूत इच्छाशक्ति वाले राष्ट्र की पहचान हमने दुनिया को कराई है। उन्होंने कहा कि 40 वर्षों से लंबित ‘OROP’ को एक साल में लागू कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने भूतपूर्व सैनिकों के प्रति सम्मान और अपनी संवेदना को प्रकट करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष में एक साथ 104 उपग्रह को स्थापित करके हमने अंतरिक्ष विकास के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हासिल की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश की धरोहर और सांस्कृतिक विरासत योग को दुनियाभर में प्रतिष्ठित करने का काम किया है और आज दुनिया में 170 देश 21 जून को योग दिवस मना रहे हैं। उन्होंने कहा कि पेरिस समझौते में पर्यावरण को बचाने की हमारी प्रतिबद्धता ने हमें दुनिया में ग्लोबल लीडर के रूप में प्रतिष्ठित किया है।

श्री शाह ने कहा कि काले-धन के दुष्प्रभाव को देश की अर्थव्यवस्था से ख़त्म करने के लिए मोदी सरकार ने कई कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि नोटबंदी का सफल और साहसिक कदम उठाकर देश की अर्थव्यवस्था को पारदर्शी बनाने में सरकार सफल हुई है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक चंदों को 2000 कैश तक सीमित करके राजनीतिक पार्टियों की चंदे की प्रक्रिया को भी पारदर्शी बनाने की पहल की गई है। उन्होंने कहा कि चाहे बेनामी संपत्ति पर क़ानून की बात हो, शत्रु संपत्ति बिल को पारित कराने की बात हो या फिर शेल कंपनियों के खिलाफ मुहिम की बात - केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर मोर्चे पर अपनी दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति का परिचय देते हुए इन सबके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि साइप्रस, सिंगापुर और मॉरीशस के रूट से जो काला-धन देश में आता था, उसे बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस सबका परिणाम है कि एक ही साल में लगभग 91 लाख नए पैन कार्ड रजिस्टर हुए हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने महाराष्ट्र के विकास के लिए कई कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में 13वें वित्त आयोग के समय सेन्ट्रल टैक्स में महाराष्ट्र की हिस्सेदारी 74,104 करोड़ रुपये थी जबकि मोदी सरकार में 14वें वित्त आयोग में यह 2,19,165 करोड़ रुपये हो गयी है। उन्होंने कहा कि ग्रांट इन ऐड के रूप में 13वें वित्त आयोग में महाराष्ट्र को 16,331 करोड़ रुपये मिलते थे जो अब बढ़कर 33,595 करोड़ रुपये हो गई है। उन्होंने कहा कि स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट ग्रांट को भी 1835 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 6,140 करोड़ रुपये कर दिया गया है, इसी तरह, लोकल बॉडीज ग्रांट को भी 8497 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 27,448 करोड़ रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस चार सेक्शन में ही कुल मिलाकर महाराष्ट्र को विकास के लिए 1,60,000 करोड़ रुपये की सहायता राशि उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त महाराष्ट्र में मेट्रो, इन्फ्रास्ट्रक्चर और सी लिंक की परियोजनाओं के लिए भी केंद्र सरकार ने मदद की है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कई सरकारें 50 साल में एक-दो ऐतिहासिक काम करती है, मोदी सरकार ने तीन साल में 50 काम ऐसे किये हैं जो ऐतिहासिक हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों को अच्छे लगने वाले फैसले लेने के बजाय लोगों के लिए अच्छे फैसले लिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने तीन साल में 106 लोक-कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की है और इसे समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि चाहे किसानों की भलाई की बात हो, चाहे युवाओं को रोजगार देने की बात हो, देश की सुरक्षा की बात हो या फिर इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट की, मोदी सरकार ने हर क्षेत्र में देश का गौरव बढ़ाने का काम किया है।

(महेंद्र पांडेय)
कार्यालय सचिव

 

Tag: 8 | 11 | 7

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter