bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient points of speech of Hon'ble Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing public meetings at Sumerpur (Pali) and Dausa in Rajasthan on 05 Dec 2018

Accessibility

 

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राजस्थान के सुमेरपुर (पाली) और दौसा में आयोजित विशाल जन-सभाओं में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

 

राजस्थान की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को विजयी बनाने का निर्णय ले लिया है। राजस्थान में कांग्रेस पार्टी चुनाव तो हार ही रही है, अब कांग्रेस के रागदरबारी इस फिराक में हैं कि इस हार का ठीकरानामदारके सिर ना फूटे, इसके लिए कौन-कौन से तर्क दिए जाएं

****************

विकास हमारा संकल्प है और विकास ही सभी समस्याओं का समाधान है। हमारा एक ही मंत्र है - “सबका साथ, सबका विकास"

****************

जिसनामदारको अपनी पार्टी के किसान नेता कुंभाराम जी और कुंभकरण के बीच अंतर नहीं पता, वे तो सत्ता में आकर सोएंगे ही। ऐसे लोगों के हाथ भूल कर भी राजस्थान की कमान नहीं दी जा सकती है

****************

भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी जंग जारी रहेगी। कोई कारण नहीं है कि भारत इतने साल तक पिछड़ा क्यों रहा, क्यों गरीब रहा। इसके पीछे अगर कोई कारण है तोनामदार" की चार पीढ़ी का शासन है

****************

रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार में हुए वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले के भगौड़े आरोपी बिचौलिए को भारत सरकार कल दुबई से उठा लाई। ये राजदार कई राज खोलेगा और जब राज खुलेगा तो न जाने बात कितनी दूर तक जायेगी

****************

आज राजस्थान की जनता ने अखबारों में पढ़ा होगा कि सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस की दलीलें खारिज करते हुए उनके कारनामों की फ़ाइल खोलने का हक़ भारत सरकार को दिया है। अब देखते हैं कि कैसे देश को लूटने वाले बच के निकलते हैं!

****************

कांग्रेस की सरकार के समय करोड़ों रुपये के घपले हुए। हमने पुराने मामले खोलने शुरू किये और जब इनके काले कारनामें आने शुरू हुए तोनामदार" को कोर्ट जाना पड़ा। आज एक चायवाला, एक गरीब का बेटा उन्हें अदालत के दरवाजे पर ले गया, यह ईमानदारी की जीत है

****************

आज करोड़ों की हेरा-फेरी में कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व, कांग्रेस कानामदार" जमानत पर बाहर हैं। किसी गाँव में यदि कोई गुनाहगार जमानत पर बाहर हो तो उसका सम्मान होता है क्या? यदि ऐसा नहीं होता तो फिर राजस्थान की जनता ऐसे जमानती लोगों का साथ नहीं देगी

****************

रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार में गृह मंत्री और वित्त मंत्री रहे एक कांग्रेस नेता जो खुद सुप्रीम कोर्ट में वकालत करते थे, आज भ्रष्टाचार के मामले में उनके पुत्र को जेल जाना पड़ा। वे खुद भी कोर्ट में जाकर अगली तारीख मांगते हैं। जिसने भ्रष्टाचार किया है, उसे सजा मिलकर रहेगी

****************

नामदारके रिश्तेदार ने राजस्थान सहित कई राज्यों में मुफ्त के भाव में किसानों से जमीन हड़प ली। इस फर्जीवाड़े के लिए दोषियों को सजा होना चाहिए। राजस्थान में इस बार भाजपा की सरकार बनती है तो किसानों के साथ विश्वासघात करने वाले को सजा मिलना निश्चित है

****************

देश की गरीबी के लिए कांग्रेस का एक परिवार ही जिम्मेदार है। कांग्रेस अपनी सरकार में सिर्फ 'तुम भी लूटो, मैं भी लूटो' के खेल खेलती रही

****************

सभी देशवासियों कोभारत माता की जयबोलने में गर्व की अनुभूति होती है, एक अलग प्रकार के जोश का संचार होता है लेकिन कांग्रेस केनामदार" को इसमें शर्म महसूस होती है

****************

कांग्रेस नेताभारत माता की जय" के बदलेसोनिया गाँधी की जयबोलने का दवाब बनाते हैं। ऐसी कांग्रेस पार्टी राजस्थान का भला नहीं कर सकती

****************

कांग्रेस ने शुरू से ही धर्म, जाति और गरीब-अमीर के नाम पर समाज में नफरत का जहर फैलाने का काम किया है। कांग्रेस ने इतने पाप किए हैं कि वह राजस्थान की जनता का कभी भला नहीं कर सकती

****************

जब कांग्रेस की सरकार थी तो बस पार्टी के एक परिवार के बारे में सोचा जाता था। कभी किसानों और आदिवासियों के हित का कांग्रेस ने नहीं सोचा। यह भारतीय जनता पार्टी सरकार है जिसने किसानों और आदिवासियों के कल्याण का बीड़ा उठाया

****************

श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार में पहली बार अलग से आदिवासी मंत्रालय का गठन हुआ और अलग बजट का निर्धारण हुआ

****************

कांग्रेस ने किसानों के कर्जमाफी में भी घोटाला किया, कर्नाटक में कर्जमाफी तो दूर, किसानों को जेल में डाला जा रहा है, ऐसी कांग्रेस पार्टी को राजस्थान की जनता कभी भी सेवा का मौक़ा नहीं दे सकती। कांग्रेस ने चार पीढ़ियों तक झूठ बोलने के अलावे कुछ नहीं किया

****************

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज बुधवार को राजस्थान के सुमेरपुर (पाली) और दौसा में विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और प्रदेश की जनता से भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में मतदान की अपील करते हुए जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति करने वाली कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा।

 

मेरा पोलिंग बूथ, सबसे मजबूत पोलिंग बूथ

 

प्रधानमंत्री जी ने स्थानीय जन-नायकों को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए अपने उद्बोधन की शुरुआत की और पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘मेरा पोलिंग बूथ, सबसे मजबूत पोलिंग बूथ' का मंत्र देते हुए उनका आह्वान किया कि वे चुनाव से पहले हर घर में जाएँ और लोगों से ज्यादा से ज्यादा मतदान करने का आग्रह करें। “भारत माता की जय" का उद्घोष करते हुए उन्होंने कहा कि सभी देशवासियों कोभारत माता की जयबोलने में गर्व की अनुभूति होती है, एक अलग प्रकार के जोश का संचार होता है लेकिन कांग्रेस केनामदार" को इसमें शर्म महसूस होती है। कांग्रेस नेताभारत माता की जय" के बदलेसोनिया गाँधी की जयबोलने का दवाब बनाते हैं। ऐसी कांग्रेस पार्टी राजस्थान का भला नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को विजयी बनाने का निर्णय ले लिया है। उन्होंने कहा कि जब राजस्थान चुनाव का बिगुल भी नहीं बजा था, तब कांग्रेस पार्टी दुष्प्रचार करने में मगन थी और एसी कमरों में बैठ कर राजस्थान में अपनी जीत का दावा कर रही थी लेकिन अब ऐसा दावा करने वाले रागदरबारी निराश हो रहे हैं। अब कांग्रेस पार्टी अपनी हार के कारणों पर चिंतन करने लगी है क्योंकि राजस्थान की जनता ने झूठ फैलाने वालों के सपने को चूर-चूर कर दिया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी चुनाव तो हार ही रही है, अब वे इस फिराक में हैं कि इस हार का ठीकरानामदारके सिर ना फूटे, इसके लिए कौन-कौन से तर्क दिए जाएं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने शुरू से ही धर्म, जाति, ऊंच-नीच, गरीब-अमीर के नाम पर समाज में नफरत का जहर फैलाने का काम किया है। कांग्रेस ने आज तक इतने पाप किए हैं कि वह राजस्थान की जनता का कभी भला नहीं कर सकती है।

 

कांग्रेस की कुम्भकरण लिफ्ट योजना पर हमला

 

राहुल गाँधी पर करारा हमला करते हुए श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को अपनी पार्टी के नेताओं के नाम और उनके कृतित्व तक नहीं पता। किसान नेता कुंभाराम जी में कांग्रेस अध्यक्ष को कुंभकरण दिखाई देता है। जिसनामदारको अपनी पार्टी के नेता कुंभाराम जी और कुंभकरण के बीच अंतर नहीं पता है, वे तो सत्ता में आकर सोएंगे ही। ऐसे लोगों के हाथ भूल कर भी राजस्थान की सत्ता की बागडोर नहीं दी जा सकती है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को चुनौती देते हुए कहा कि अगर दम हो तो कांग्रेस अध्यक्ष बिना कागज़ लिए अपनी पार्टी के सभी अध्यक्षों के नाम एक क्रम में बता दें। जिन्हें अपनी पार्टी के नेताओं के बारे में मालूम ही नहीं, वे राजस्थान का विकास क्या करेंगे?

 

वीवीआईपी हेलिकॉप्टर का राजदार आया पकड़ में

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2014 के लोक सभा चुनाव के दौरान मैंने रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार के हजारों करोड़ रुपये के वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले का जिक्र किया था। पूरे देश की जनता को वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाला और वह तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्षा की चिट्ठी के बारे में मालूम तो होगा ही। सारी फाइलों और कागजों को न जाने कहाँ-कहाँ ठिकाने लगा दिया गया था लेकिन सरकार में आने के बाद हम लगातार इसे ढूंढ़ते रहे और उसमें से अब एक राजदार पकड़ में आया है। ये दुबई में रह कर बिचौलिये का काम करता था। हिंदुस्तान के “नामदार" के साथियों का ख़याल रखता था। हमारी अदालत ने इसके खिलाफ वारंट निकाल रखा था लेकिन यह दुबई में बैठा हुआ था। आज देश की जनता ने अखबारों में पढ़ा होगा। भारत सरकार कल उस भगौड़े बिचौलिये को दुबई से उठा लाई। ये राजदार कई राज खोलेगा और जब राज खुलेगा तो न जाने बात कितनी दूर तक पहुंचेगी।

 

कांग्रेस के काले कारनामों की सारी फाइलें खोलने का भारत सरकार को पूरा हक़

 

श्री मोदी ने कहा कि “नामदार” का कहना है कि मोदी भ्रष्टाचार पर नहीं बोलते हैं, लेकिन जिन खबरों को दबा दिया जाए तो समझ लेना की “नामदार” मुश्किल में हैं। उन्होंने कहा कि मैं सोने का चम्मच लेकर पैदा नहीं हुआ, मैंने गरीबी देखी है। उन्होंने कहा कि देश की गरीबी के लिए कांग्रेस का एक परिवार ही जिम्मेदार है। कांग्रेस अपनी सरकार में सिर्फ 'तुम भी लूटो, मैं भी लूटो' के खेल खेलती रही।

 

उन्होंने कहा कि आज राजस्थान की जनता ने अखबारों में पढ़ा होगा कि सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस की दलीलें खारिज करते हुए उनके कारनामों की फ़ाइल खोलने का हक़ भारत सरकार को दिया है। कोर्ट ने कहा कि अगर गड़बड़ी हुई है तो जांच होनी ही चाहिए। अब देखते हैं कि कैसे देश को लूटने वाले बच के निकलते हैं! करोड़ों रुपयों का घपला, इनकम टैक्स में फर्जी कंपनियों के नाम पर घपला और सारी फाइलें बंद, कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की फाइलें बंद। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय करोड़ों रुपये के घपले हुए, उस वक्त माता-पुत्र ने अधिकारियों को जो आदेश दिए, अधिकारी उसी पर काम करने को मजबूर होते रहे। हमने पुराने मामले खोलने शुरू किये और जब इनके काले कारनामें आने शुरू हुए तो “नामदार" को कोर्ट जाना पड़ा। आज एक चायवाला, एक गरीब का बेटा उन्हें अदालत के दरवाजे पर ले गया, यह ईमानदारी की जीत है। आज करोड़ों की हेरा-फेरी में कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व, कांग्रेस कानामदार" जमानत पर बाहर हैं। किसी गाँव में यदि कोई गुनाहगार जमानत पर बाहर हो तो उसका सम्मान होता है क्या? यदि ऐसा नहीं होता तो फिर राजस्थान की जनता ऐसे जमानती लोगों का साथ नहीं देगी।

 

सुप्रीम कोर्ट में वकालत करने वाले नामदार भ्रष्टाचार में अदालत के चक्कर लगा रहे

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार में गृह मंत्री और वित्त मंत्री रहे एक कांग्रेस नेता जो खुद सुप्रीम कोर्ट में वकालत करते थे, आज जब उनके काले कारनामे बाहर आये तो भ्रष्टाचार के मामले में उनके पुत्र को जेल जाना पड़ा। आज की स्थिति ये है किनामदारके सहयोगी और सुप्रीम कोर्ट के वकील जमानत लेकर बाहर चल रहे हैं खुद भी कोर्ट में जाकर अगली तारीख मांगते हैं।

 

नामदार के रिश्तेदार का जमीन घोटाला

 

श्री मोदी ने कहा कि नामदारके रिश्तेदार ने राजस्थान सहित कई राज्यों में मुफ्त के भाव में किसानों से जमीन हड़प ली, कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार उनकी सेवा में लग गए। इस दौरान एक फर्जी कंपनी बनाई गई फिर भारी घाटे में चल रही एक स्टील कंपनी से सौदा हुआ और सरकार की ओर से मदद की गई। कौड़ियों के दाम जमीन हड़प कर उसी जमीन को नामदार के रिश्तेदार ने साथ गुना अधिक मूल्य पर बेच दिया और सारा मुनाफ़ा अंदर कर लिया। स्पष्ट है कि नामदार के रिश्तेदार ने किसानों के साथ धोखा दिया। उन्होंने कहा कि इस फर्जीवाड़े के लिए दोषियों को सजा होना चाहिए। राजस्थान में इस बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो किसानों के साथ विश्वासघात करने वाले को सजा मिलना निश्चित है।  

 

किसानों और आदिवासियों की उपेक्षा कांग्रेस सरकारों ने की

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब कांग्रेस की सरकार थी तो बस पार्टी के एक परिवार के बारे में सोचा जाता था। कभी किसानों और आदिवासियों के हित का कांग्रेस ने नहीं सोचा। किसानों और आदिवासियों की सभी समायाओं की जिम्मेदार कांग्रेस पार्टी की सरकारें रही। उन्होंने कहा कि श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार में पहली बार अलग से आदिवासी मंत्रालय का गठन हुआ और अलग बजट का निर्धारण हुआ। भाजपा शासित राज्यों में आदिवासी कल्याण के लिए विशेष पहल की गई और उन्हें समाज की मुख्य धारा में लाने का बीड़ा उठाया गया। उन्होंने कहा कि किसानों की भलाई के लिए भारतीय जनता पार्टी सरकार ने कई कार्य किये चाहे वह समर्थन मूल्य को लागत मूल्य का डेढ़ गुना करने की बात हो, प्रधानमंत्री फसल बीमा की शुरुआत हो, नीम कोटेड यूरिया का इम्प्लीमेंटेशन हो, ई-नाम की अवधारणा हो या फिर स्वायल हेल्थ कार्ड का इनिशिएटिव हो। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने किसानों के कर्जमाफी में भी घोटाला किया, कर्नाटक में कर्जमाफी तो दूर, किसानों को जेल में डाला जा रहा है, ऐसी कांग्रेस पार्टी को राजस्थान की जनता कभी भी सेवा का मौक़ा नहीं दे सकती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चार पीढ़ियों तक झूठ बोलने के अलावे कुछ नहीं किया।

 

विकास हमारा संकल्प

 

श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय फर्जीवाड़े से कुछ लोग गरीबों की सरकारी सहायता हड़प कर जाते थे। उन्होंने कहा कि केंद्र में आने के बाद भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने इस फर्जीवाड़े को रोकने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि लगभग 6.5 करोड़ लोग ऐसे मिले हैं जो हैं ही नहीं, उनके नाम पर करोड़ों रुपये लूटे गए। इसकी जिम्मेदार केवल और केवल कांग्रेस पार्टी थी। ये गरीब का पैसा था। हमारी सरकार ने इस लूट को बंद कर लगभग 90 हजार करोड़ रुपये की बचत की है जिसे गरीब-कल्याण की योजनाओं में खर्च किया जा रहा है।

 

उन्होंने कहा कि जिनकी जेब में लूट के ये पैसे जाते थे, अब वे परेशान हैं, अब वे मोदी के दुश्मन बन गए हैं लेकिन भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी जंग जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कोई कारण नहीं है कि भारत इतने साल तक पिछड़ा क्यों रहा, क्यों गरीब रहा। इसके पीछे अगर कोई कारण है तोनामदार" की चार पीढ़ी का शासन है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार की वजह से ऐसा हुआ। उन्होंने कहा कि जो काम कांग्रेस ने खुद चार पीढ़ी में कभी नहीं किया, उनका जवाब मोदी के चार साल में मांग रहे हैं लेकिन राजस्थान की जनता समझदार है, वे कभी भी कांग्रेस को दोबारा नहीं आने देगी।

 

उन्होंने केंद्र सरकार और राज्य सरकार की उपलब्धियों पर विस्तार से चर्चा की और खादी के उपयोग को भी बढ़ावा देने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि विकास हमारा संकल्प है और विकास ही सभी समस्याओं का समाधान है। हमारा एक ही मंत्र है - “सबका साथ, सबका विकास"

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh