bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient points of speech of BJP National President, Shri Amit Shah addressing Intellectuals meeting in Jaipur (Rajasthan)

Accessibility

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा जयपुर, राजस्थान में आयोजित प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

 

कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान देश के खजाने को दोनों हाथों से लूटा जाता था, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में आज देश के खजाने पर जिनका अधिकार है, उन गरीब, पिछड़े और आदिवासियों तक इसे पहुंचाया जा रहा है

***************

भारतीय जनता पार्टी ने देश को विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय प्रधानमंत्री देने का काम किया है जिनके नेतृत्व में चलने वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार पारदर्शी, निर्णायक और भरष्टाचार-मुक्त है.

***************

आशा कार्यकर्ताओं के सामान्य मानदेय को दोगुना करने और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में अभूतपूर्व बढ़ोतरी के लिए मैं प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का हार्दिक अभिनंदन करता हूँ

***************

आशा कार्यकर्ताओं और उनकी सहायिकाओं को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2-2 लाख रुपए की मुफ्त सुरक्षा देने के प्रधानमंत्री जी का ऐतिहासिक निर्णय स्वागत योग्य है. इसकी जितनी भी सराहना की जाय, वह कम है

***************

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है

***************

नेशनल हेराल्ड मामले में कोर्ट के निर्णय से स्पष्ट है कि दाल में कुछ काला है. कांग्रेस नेतृत्व द्वारा 249 करोड़ रुपये छिपाए गए। देश की जनता को यह जानने का पूरा हक़ है कि लोन के 90 करोड़ कैसे आये और किस तरह से करोड़ों की प्रॉपर्टी हड़पने की कोशिश की गई

***************

बांग्लादेशी घुसपैठिये देश की सुरक्षा के लिए ख़तरा हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी को इसमें अपना वोटबैंक नजर आता है। कांग्रेस को वोट की चिंता है जबकि देश की सुरक्षा भारतीय जनता पार्टी का कर्तव्य है। NRC का विरोध करके कांग्रेस आखिर किसको बचाना चाहती है?

***************

जिन पर देश को अस्थिर करने के लिए भारी हथियार खरीदने, नक्सलवादियों को आर्थिक मदद पहुंचाने और देश के प्रधानमंत्री की हत्या करने की साजिश जैसे गंभीर आरोप हैं लेकिन पूरी निर्लज्जता के साथ कांग्रेस एवं उसकी सहयोगी पार्टियांअभिव्यक्ति की स्वतंत्रता' के नाम पर  राष्ट्र के खिलाफ काम करने देशद्रोहियों के साथ खड़ी हो गई

***************

कोई हमें अपशब्द कहे, हम कुछ नहीं कहते लेकिन देश के खिलाफ काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, इन्हें क़ानून के हिसाब से सजा दी जायेगी और जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा. देश की जनता पूरे घटनाक्रम को देख रही है और वह इस अपराध के लिए विपक्ष को कभी माफ़ नहीं करेगी

***************

13वें वित्त आयोग के दौरान कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन-राहुल सरकार ने राजस्थान को केवल 109244 करोड़ रुपये दिए जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में 263580 करोड़ रुपये का आवंटन किया है.सके अतिरिक्त केन्द्रीय योजनाओं में राजस्थान को लगभग 36,000 करोड़ रुपये की राशि दी गई

***************

मोदी सरकार देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को विकास की मुख्यधारा में लाना चाहती है जिन तक आजादी के 70 साल बाद भी और कांग्रेस की चार पीढ़ियों के शासन के बावजूद विकास नहीं पहुँच सका

***************

हाल ही में अर्थव्यवस्था के ताजे आंकड़े से यह सामने आया है कि इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में देश की विकास दर 8.2% तक पहुँच गई है. यूपीए सरकार के समय वैश्विक अर्थव्यवस्था में भारत 9वें स्थान पर था जबकि आज भारत विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और हम तेज गति से विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर हैं

***************

राजस्थान की वसुंधरा सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए काफी काम किया है. सड़क, बिजली, पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं में व्यापक सुधार हुआ है

***************

हम शुचिता के साथ लोगों के प्रति समर्पित रहकर काम करने वाली पार्टी के लोग हैं. जब हम सरकार में आते हैं तो विकास तेज गति से आगे बढ़ता है, देश का गौरव बढ़ता है और गरीब लोगों के जीवन में परिवर्तन होता है

***************

आज देश के लगभग 1650 राजनीतिक पार्टियों में केवल भारतीय जनता पार्टी ही ऐसी पार्टी है जो किसी जाति अथवा परिवार के आधार पर नहीं बल्कि विचारधारा के आधार पर चलती है और जिसका एकमात्र उद्देश्य समग्र हिन्दुस्तान का कल्याण है

***************

कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह सबको पहले से पता था, लेकिन भारतीय जनता पार्टी का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह किसी को मालूम नहीं है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी में अध्यक्ष वंश, जाति अथवा धर्म के आधार पर नहीं बल्कि योग्यता के आधार पर तय होते हैं

***************

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज राजस्थान के बिड़ला ऑडिटोरियम, जयपुर में प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन को संबोधित किया जहां उन्होंने कई विषयों पर भारतीय जनता पार्टी के दृष्टिकोण को उनके साथ साझा किया। उन्होंने नेशनल हेराल्ड पर अदालत के फैसले और एनपीए पर रघुराम राजन के बयान में कांग्रेस के भ्रष्टाचार को लेकर राहुल गाँधी पर जम कर प्रहार किया.

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आशा कार्यकर्ताओं के सामान्य मानदेय को दोगुना करने और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में अभूतपूर्व बढ़ोतरी के साथ सभी आशा कार्यकर्ताओं और उनकी सहायिकाओं को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2-2 लाख रुपए की मुफ्त सुरक्षा देने के ऐतिहासिक निर्णय पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का हार्दिक अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का यह ऐतिहासिक निर्णय स्वागत योग्य है। इसकी जितनी भी सराहना की जाय, वह कम है।

 

श्री शाह ने कहा कि मुझे पूर्ण विश्वास है कि मोदी सरकार के इस निर्णय से देश के दूर-सदूर इलाकों में कार्यरत स्वास्थ्य, महिला व बाल कल्याण सेवाओ की अंतिम व सशक्त कड़ी, लाखों आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का न सिर्फ मनोबल बढ़ेगा बल्कि उनके जीवनस्तर में भी सकारात्मक परिवर्तन आएगा, जिससे उनकी सेवाओं में भी गुणात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।

 

नेशनल हेराल्ड मामले में कोर्ट द्वारा कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेताओं की टैक्स असेसमेंट की याचिका को खारिज किये जाने पर कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए श्री शाह ने कहा कि कोर्ट ने कल ही निर्णय देते हुए कांग्रेस नेताओं इनकम टैक्स में जाने को कहा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व द्वारा 249 करोड़ रुपये छिपाए गए। उन्होंने कहा कि यह निर्णय हमारी याचिका पर नहीं बल्कि उन्हीं की याचिका पर आया। उन्होंने कहा कि देश की जनता को यह जानने का पूरा हक़ है कि लोन के 90 करोड़ कैसे आये और किस तरह से करोड़ों की प्रॉपर्टी हड़पने की कोशिश की गई। उन्होंने कहा कि ये किस तरह की पारदर्शिता है, यह जनता के सामने स्पष्ट होना चाहिए।

 

एनआरसी पर कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियों को कठघरे में खड़ा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बांग्लादेशी घुसपैठिये देश की सुरक्षा के लिए ख़तरा हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी को इसमें अपना वोटबैंक नजर आता है। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान आये दिन घुसपैठिये देश की सुरक्षा में सेंध लगाते रहते थे लेकिन कांग्रेस सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी रहती थी क्योंकि कांग्रेस पार्टी को केवल वोट बैंक की चिंता रहती थी। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी सरकार ने असम एकॉर्ड किया था जिसमें अवैध घुसपैठियों के detect, delete और deport की बात की गई. उन्होंने कहा कि जब हमने देश से बांग्लादेशी घुसपैठियों को बाहर निकालने के लिए NRC का काम शुरू किया तो कांग्रेस पार्टी ने हायतौबा मचा दी, उसे अवैध घुसपैठियों के मानवाधिकार की चिंता सताने लगी। क्या देश की जनता का, असम के नागरिकों का कोई मानवाधिकार नहीं है? उन्होंने कहा कि कांग्रेस को देश के लोगों की सुरक्षा की चिंता नहीं है, वह देश के नागरिकों का अधिकार छीनने वालों के साथ खड़ी नजर आती है। NRC का विरोध करके कांग्रेस आखिर किसको बचाना चाहती है? उन्होंने जोर देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्त्व में केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी कभी भी देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेगी, एक-एक घुसपैठियों की पहचान की जायेगी और उन्हें नागरिकता सूची से हटाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को वोट की चिंता है जबकि देश की सुरक्षा भारतीय जनता पार्टी का कर्तव्य है।

 

श्री शाह ने कांग्रेस से स्पष्टीकरण की मांग करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के नेता राजस्थान में वोट मांगने से पहले अवैध घुसपैठ पर अपना एजेंडा स्पष्ट करें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी तुच्छ वोटबैंक की राजनीति को देश हित से ऊपर रख कर देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता को कांग्रेस से सवाल करना चाहिए कि उनका अवैध घुसपैठ पर क्या रुख है?

 

देश में माओवादियों की गिरफ्तारी की चर्चा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जो लोग पकड़े गए हैं, उन्होंने देश को अस्थिर करने के लिए भारी हथियार खरीदने, नक्सलवादियों को आर्थिक मदद पहुंचाने और देश के प्रधानमंत्री की हत्या करने की साजिश जैसे गंभीर आरोप हैं लेकिन पूरी निर्लज्जता के साथ कांग्रेस एवं उसकी सहयोगी पार्टियांअभिव्यक्ति की स्वतंत्रता' के नाम पर  राष्ट्र के खिलाफ काम करने देशद्रोहियों के साथ खड़ी हो गई। उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी समेत कई सारे विपक्षी नेताओं ने मोर्टार खरीदने वालों और देश के प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचने वालों के पक्ष में बोला। उन्होंने कहा कि मैं देश की जनता से पूछना चाहता हूँ कि क्या ऐसे लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता मिलनी चाहिए जो ये कहते हैं कि देश के प्रधानमंत्री को नहीं मारा तो हमारी विचारधारा समाप्त हो जायेगी. क्या ऐसे लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता मिलनी चाहिए जो जेएनयू मेंभारत तेरे टुकड़े होंगे' जैसे देशद्रोही नारा लगाते हैं, क्या ऐसे लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता मिलनी चाहिए जो मोर्टार खरीदकर देश में अस्थिरता फैलाना चाहते हैं? उन्होंने कहा कि कोई हमें अपशब्द कहे, हम कुछ नहीं कहते लेकिन देश के खिलाफ काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, इन्हें क़ानून के हिसाब से सजा दी जायेगी और जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा. उन्होंने कहा कि देश की जनता पूरे घटनाक्रम को देख रही है और वह इस अपराध के लिए विपक्ष को कभी माफ़ नहीं करेगी. उन्होंने विपक्ष को ‘मानवाधिकार का ढिंढोरा पीटनेवाले देशों' का क़ानून पढ़ने की सलाह देते हुए कहा कि ऐसे लोगों को देशद्रोहियों के खिलाफ इन देशों के कठोर क़ानून पढ़ने चाहिए.

 

श्री शाह ने कहा कि आज देश के लगभग 1650 राजनीतिक पार्टियों में केवल भारतीय जनता पार्टी ही ऐसी पार्टी है जो किसी जाति अथवा परिवार के आधार पर नहीं बल्कि विचारधारा के आधार पर चलती है और जिसका एकमात्र उद्देश्य समग्र हिन्दुस्तान का कल्याण है। यही भारतीय जनता पार्टी और देश की अन्य राजनीतिक पार्टियों के बीच का अंतर है। उन्होंने कहा कि यदि पार्टी के अंदर ही लोकतंत्र नहीं है तो वह देश का भला नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि देश की अधिकतर पार्टियों में सबको पता है कि उसका अगला अध्यक्ष कौन होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह सबको पहले से पता था, लेकिन भारतीय जनता पार्टी का अगला अध्यक्ष कौन होगा, यह किसी को मालूम नहीं है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी में अध्यक्ष वंश, जाति अथवा धर्म के आधार पर नहीं बल्कि योग्यता के आधार पर तय होते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में आतंरिक लोकतंत्र नहीं है और ऐसी पार्टियां जब लोकतंत्र पर चर्चा करती है तो काफी हास्यास्पद प्रतीत होता है। भारतीय जनता पार्टी में नेता अपनी निष्ठा, देश के लिए काम करने की लगन, परिश्रम, मेधा और परफॉरमेंस के आधार पर बनते हैं, यही कारण है कि यहाँ एक बूथ कार्यकर्ता भी पार्टी का अध्यक्ष बन सकता है और एक गरीब का बेटा व पार्टी का एक छोटा सा कार्यकर्ता देश का प्रधानमंत्री। उन्होंने कहा कि देश में कई सारी पार्टियाँ हैं जो परिवारवाद और जातिवाद के आधार पर ही चल रही हैं। उन्होंने कहा कि मैं देश की जनता का भी आह्वान करना चाहूँगा कि वे भी ऐसे दलों को चुनें जहां आंतरिक लोकतंत्र हो।

 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि याद कीजिये 2014 से पहले की स्थिति को जब देश में 10 सालों तक कांग्रेस-नीत यूपीए की सोनिया-मनमोहन थी, अर्थव्यवस्था के सारे मापदंड नीचे की ओर जा रहे थे, देश में सर्वत्र निराशा का माहौल था, महंगाई दर अपने चरम पर थी और कांग्रेस के 12 लाख करोड़ के घपले-घोटालों ने देश को झकझोर कर रख दिया था। उन्होंने कहा कि उस वक्त सरकार की कोई विश्वसनीयता नहीं रह गई थी, हर मंत्री अपने आप को प्रधानमंत्री समझता था और प्रधानमंत्री को कोई प्रधानमंत्री समझता ही नहीं था। देश की सरकार पूरी तरह लकवाग्रस्त हो गई थी। उन्होंने कहा कि ऐसी परिस्थिति में देश की जनता ने 30 साल बाद देश में एक पूर्ण बहुमत की सरकार का गठन किया और देश के विकास की बागडोर श्री नरेन्द्र भाई मोदी के हाथों में सौंपने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि आज 12 लाख करोड़ रुपये के घपले-घोटाले करने वाली सरकार की जगह देश में तीन साल से केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक ऐसी केंद्र सरकार चल रही जिस पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है, हमारे विरोधी भी हम पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा सकती। 


श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के गठन के साथ ही हमने देश की आधी आबादी के विकास के लिए सोचना शुरू किया और योजनाओं का क्रियान्वयन शुरू हुआ. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को विकास की मुख्यधारा में लाना चाहती है जिन तक आजादी के 70 साल बाद भी और कांग्रेस की चार पीढ़ियों के शासन के बावजूद विकास नहीं पहुँच सका। उन्होंने कहा कि पहली बार देश के हर गरीब में आशा और विश्वास का संचार हो रहा है कि आज देश में एक ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो उनके बारे में सोच रहे हैं, उनके उत्थान के बारे में सोच रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने चार सालों में लगभग चार करोड़ गरीब माताओं को गैस कनेक्शन दिए, साढ़े सात करोड़ शौचालयों का निर्माण किया, 31 करोड़ लोगों के बैंक एकाउंट खोले, लगभग 18 करोड़ बच्चों और गर्भवती महिलाओं का मिशन इन्द्रधनुष के अंतर्गत निःशुल्क टीकाकरण सुनिश्चित किया, लगभग 13 करोड़ से अधिक लोगों को मुद्रा बैंक की योजना से स्वरोजगार के लिए आसान ऋण उपलब्ध कराये और आजादी के 70 साल बाद भी बिजली से वंचित लगभग 19 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई। उन्होंने कहा कि 2022 तक देश का ऐसा कोई भी घर नहीं होगा जहां बिजली न हो और कोई गरीब ऐसा नहीं होगा जिनके सिर पर अपनी छत न हो।

 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने देश के सोचने के स्केल को ऊपर उठाने का काम किया है. उन्होंने कांग्रेस और यूपीए सरकारों की सोच में अंतर को स्पष्ट करते हुए कहा कि सोनिया-मनमोहन-राहुल की यूपीए सरकार योजनायें बनाती थीं कि इतने सिलिंडर बांटे जायेंगे जबकि मोदी सरकार का लक्ष्य है कि देश में गैस सिलिंडर के बिना कोई नहीं रहेगा. पहले की कांग्रेस सरकारें लक्ष्य तय करती थीं कि इतने घरों में बिजली पहुंचानी है जबकि मोदी सरकार यह लक्ष्य तय कर के चल रही है कि देश में बिना बिजली का कोई घर न हरे. पहले कागजों पर योजनायें बनती थीं, आज योजनायें बनती भी हैं और जमीन पर उतरती भी हैं. उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस की सरकारों ने लोक-कल्याण के ये कार्य पहले ही कर लिए होते तो गरीबों की सेवा का ये अवसर हमारे भाग्य में ही न आता.

 

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस को कभी मानवीय संवेदनाओं की चिंता ही नहीं रही। उन्होंने कहा कि एक गरीब परिवार में जन्म लेने वाले श्री नरेन्द्र मोदी जी जब देश के प्रधानमंत्री बनते हैं तो वे गरीबों की वेदनाओं को समझते हैं और उनकी भलाई के लिए, उनके जीवन से गरीबी को दूर करने के लिए योजनायें बनाते हैं और उसका क्रियान्वयन करते हैं क्योंकि उन्होंने गरीबी को जिया है। ‘आयुष्मान भारत' योजना की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने गरीबों के स्वास्थ्य की चिंता को ध्यान में रखते हुए देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को प्रतिवर्ष पांच लाख रुपये तक का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा देने का निर्णय लिया है जिसे देश की जनतानमो केयर' की संज्ञा दे रही है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि देश के किसान आजादी के बाद से ही अपने फसल के उचित मूल्य की मांग कर रहे थे, न्यूनतम समर्थन मूल्य के रूप में फसल के लागत मूल्य का डेढ़ गुना मूल्य के निर्धारण की मांग कर रहे थे लेकिन पिछली कांग्रेस सरकारों ने इस दिशा में कोई प्रयास नहीं किये। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने फसलों के समर्थन मूल्य को लागत मूल्य का डेढ़ गुने से भी अधिक बढ़ाने का निर्णय लिया जो यह सिद्ध करता है कि मोदी सरकार देश के किसानों के विकास के प्रति कितनी कटिबद्ध है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने दुनिया में देश के मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में अभूतपूर्व वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि आज विदेशों में लोग प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की एक झलक पाने और उनका स्वागत करने के लिए लालायित रहते हैं, यह देश के सवा सौ करोड़ भारतवासियों का सम्मान है। उन्होंने कहा कि जब दावोस में विश्व के तमाम शासनाध्यक्षों की उपस्थिति में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी मातृभाषा हिंदी में उद्घाटन भाषण देते हैं तो सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है। उन्होंने कहा कि आज दुश्मनों को उन्हीं की भाषा में और उनके घर में घुसकर जवाब दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उरी में हुए कायराना हमले का जवाब हमने घर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करके दिया लेकिन राहुल गांधी देश के जवानों की वीरता कोखून की दलाली' कहते हैं। जब इसके सबूत मिलते हैं तो उनके मुंह सिल जाते हैं। राहुल गांधी पर करारा प्रहार करते हुए श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस एंड कंपनी को देश की सेना पर विश्वास नहीं है, न्यायपालिका पर विश्वास नहीं है, देश की संसद और संवैधानिक संस्थाओं पर विश्वास नहीं हैं, उनका एकमात्र मंत्र किसी भी तरह से केवल सत्ता प्राप्त करना रह गया है।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर क्षेत्र में विकास के नए पैरामीटर स्थापित किये हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में अर्थव्यवस्था के ताजे आंकड़े से यह सामने आया है कि इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में देश की विकास दर 8.2% तक पहुँच गई है. यूपीए सरकार के समय वैश्विक अर्थव्यवस्था में भारत 9वें स्थान पर था जबकि आज भारत विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और हम तेज गति से विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर हैं. उन्होंने कहा कि आज भारत दुनिया में सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है और ऐसी स्थिति पूर्ण बहुमत की मोदी सरकार के कार्यों से बनी है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के शासन में इनकम टैक्स भरने वालों की संख्या में दुगुना इजाफा हुआ. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में देश का बजट समृद्ध हुआ है, कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान देश के खजाने को दोनों हाथों से लूटा जाता था, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में आज देश के खजाने पर जिनका अधिकार है, उन गरीब, पिछड़े और आदिवासियों तक इसे पहुंचाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने देश को विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय प्रधानमंत्री देने का काम किया है जिनके नेतृत्व में एक ऐसी सरकार चल रही है जो पारदर्शी, निर्णायक और भरष्टाचार-मुक्त है.

श्री शाह ने कहा कि राजस्थान के विकास के लिए मोदी सरकार ने काफी काम किया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और अशोक गहलोत एवं सचिन पायलट को हमसे कामकाज का हिसाब मांगने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि देश की जनता उनसे कांग्रेस पार्टी की चार पीढ़ियों के कामकाज का हिसाब मांग रही है. उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र में हमने कांग्रेस की सरकार की तुलना में डेढ़ गुना से भी ज्यादा अच्छा काम किया है. उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग के दौरान कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन-राहुल सरकार ने राजस्थान को केवल 109244 करोड़ रुपये दिए जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में 263580 करोड़ रुपये का आवंटन किया है. उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त केन्द्रीय योजनाओं में राजस्थान को केंद्र की भाजपा सरकार की ओर से लगभग 36,000 करोड़ रुपये की राशि दी गई. उन्होंने कहा कि इसके अलावे तीन खानों की नीलामी से राजस्थान को 17,000 करोड़, डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड से लगभग 2000 करोड़ और उज्जवल डिस्कॉम से लगभग 21,000 करोड़ रुपये राजस्थान को मिले.इस तरह राजस्थान को लगभग 88,000 करोड़ रुपये अलग से प्राप्त हुए.   

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में मुद्रा बैंक योजना में 46 लाख लाभार्थियों को लगभग 30449 करोड़, चार स्मार्ट सिटी के लिए 771 करोड़, अजमेर सिटी के लिए 40 करोड़, अमृत योजना में 1612 करोड़, स्वच्छ भारत मिशन के लिए 409 करोड़, अर्बन ट्रांसपोर्टेशन के लिए 61 करोड़, एकलव्य योजना के लिए 2433 करोड़, मृदा कार्ड के लिए 457 करोड़, प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 220 करोड़, पुष्कर-अजमेर सर्किट के लिए 38 करोड़, सांभर लेक के लिए 64 करोड़, स्पिरिचुअल सर्किट के लिए 94 करोड़, बोर्डर एरिया डेवलपमेंट के लिए 40 करोड़ और मंदिरों के विकास के लिए 91 करोड़ रुपये की राशि दी गई है. उन्होंने कहा कि इन मदों में राजस्थान को लगभग 37,000 करोड़ रुपये दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना में 37 लाख गैस सिलिंडर बांटे गए, स्किल इंडिया के तहत 2.6 लाख लोगों को प्रशिक्षित किया गया, स्वच्छ भारत के तहत राजस्थान में 80 लाख शौचालय का निर्माण किया गया, 1.21 लाख स्वायल हेल्थ कार्ड बांटे गए, 14 लाख गर्भवती महिलायें को सुरक्षित मातृत्व योजना के तहत लाभान्वित हुई, 12 लाख लोगों को जीवन ज्योति बीमा, 46 लाख लोगों को जीवन सुरक्षा बीमा और 3.99 लाख लोगों को अटल पेंशन योजना का लाभ मिल रहा है.

श्री शाह ने कहा कि राजस्थान की वसुंधरा सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए काफी काम किया है. उन्होंने कहा कि जो काम 55 सालों में कांग्रेस पार्टी नहीं कर पाई, हमने 5 सालों में करके दिखा दिया. उन्होंने कहा कि वसुंधरा सरकार ने नवीन सर्कल के लिए 7000 करोड़ आवंटित किये, पहले केवल 2000 करोड़ थे, नवीन राज्मार्थ के लिए 5262 राज्मार्घों की योजना बनाई जबकि पहले केवल 174 राजमार्ग थे, कुल 5814 ग्रामीण सड़कों का जाला बिछाया गया, पहले केवल 2000 थी. उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा उत्पादन में 1000 मेगावाट की वृद्धि हुई, बिजली कंपनियों को 1.30 लाख करोड़ की सहायती दी गई, पेयजल परियोजना पर करोड़ों रुपये खर्च किये गए, गरीब बच्चों को 1.15 करोड़ साइकिल बांटे गए और लघ्बग 6380 विद्यालय खोले गए.

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि हम शुचिता के साथ लोगों के प्रति समर्पित रहकर काम करने वाली पार्टी के लोग हैं. उन्होंने कहा कि जब हम सरकार में आते हैं तो विकास तेज गति से आगे बढ़ता है, देश का गौरव बढ़ता है और गरीब लोगों के जीवन में परिवर्तन होता है. उन्होंने बुद्धिजीवियों से चुनाव का नैरेटिव बदलने की अपील करते हुए राज्य में फिर से एक पर विकासोन्मुखी भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का आह्वान किया.

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Tag: 8 | 9 | 30 | 17 | 38

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh