bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient points of speech by Hon’ble Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing public meeting in Vijayapura and Koppal (Karnataka)

Accessibility

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कर्नाटक के विजयपुरा और कोप्पल में आयोजित विशाल जन-सभाओं में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

 

इस बार कर्नाटक की जनता ने न सिर्फ कांग्रेस पार्टी को हटाने का निर्णय लिया है बल्कि कांग्रेस को कड़ी से कड़ी सजा देने का भी फैसला किया है। जनता के आशीर्वाद से आगामी 15 मई, 2018 को कर्नाटक में श्री येदुरप्पा जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनना तय है

**************

हम गरीबों के लिए जीते हैं, गरीबों के लिए मरते हैं लेकिन सोने की चम्मच लेकर पैदा होने वालों को भला गरीबों की समस्या का क्या पता

**************

कांग्रेस के शीर्ष नेता अभी से अपने घरों में बैठ कर हार के बहानों पर मंथन कर रहे हैं कि 15 तारीख के बाद हार के लिए कौन से कारण गिनाने हैं, वे अभी से ईवीएम पर दोष मढ़ने की योजनायें बना रहे हैं

**************

भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रभक्ति और समाज की सेवा में भरोसा करती है। हमारा केवल एक ही मंत्र है- 'सबका साथ, सबका विकासजबकि कांग्रेस पार्टी के लिए केवल एक परिवार ही सबकुछ है। हम विकास के लिये वोट मांग रहे हैं तो कांग्रेस समाज को बांटने के नाम पर वोट मांग रही है

**************

कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार 'स्लीप मोड' में है और सिंचाई की समस्या सुलझाने के लिए कुछ नहीं कर रही, इसलिए राज्य के किसानों को पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है। पांच सालों में कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार ने कर्नाटक के किसानों को बर्बाद कर दिया है

**************

एक तरफ तो कांग्रेस महिलाओं की सुरक्षा की बात करती है, लेकिन माताओं, बहनों, बेटियों की भलाई के लिए उसने कुछ भी नहीं किया, यह भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार है जिसने बलात्कारियों के लिये फांसी की सजा का क़ानून बनाया

**************

हमने बेटियों को बचाने का बीड़ा उठाया है, 'बेटा-बेटी एक समान' औरबेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान आज एक जन-आंदोलन बन चुका है और इस इनिशिएटिव से समाज में व्यापक बदलाव आया है

**************

जब हम तीन तलाक का क़ानून लेकर संसद में आये तो कांग्रेस ने इसे राज्यसभा में पारित नहीं होने दिया। जिस कांग्रेस पार्टी ने संसद में तीन तलाक विधेयक को पास नहीं होने दिया, आखिर वह महिला सशक्तिकरण की बात कैसे कर सकती है?

**************

बेटियों की सुरक्षा और सोशल सिक्योरिटी को लेकर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। बेटियां, बेटियां होती हैं चाहे वे किसी भी संप्रदाय की हों, उनका सम्मान होना चाहिए

**************

सिद्धारमैया सरकार में ऐसा कोई मंत्री नहीं है, जिस पर भ्रष्टाचार का आरोप न लगा हो। कांग्रेस पार्टी और उसके मुख्यमंत्री अंहकार में डूबे हुए हैं, उन्हें राज्य की जनता की कोई फिक्र ही नहीं है

**************

कांग्रेस के लिये एक परिवार ही संविधान है, सरकार है। कर्नाटक में कांग्रेस के नेताओं को तो अपने 'नामदार' नेताओं पर भी भरोसा नहीं है

 **************

केवल 4 वर्षों में देश में लगभग 12 करोड़ लोगों को मुद्रा बैंक योजना के माध्यम से ऋण देकर स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराये गए हैं और युवाओं कोजॉब सीकर' सेजॉब क्रियेटर' बनाने का काम किया गया है

**************

केंद्र की भाजपा सरकार देश के गरीब लोगों के लिएआयुष्मान भारत' योजना लेकर आई है जिसके तहत देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को पांच लाख रुपये तक की मेडिकल सुविधाएं मुफ्त मिल सकेगी

**************

हमने देश के हर गाँव को अंधकार से मुक्ति दिलाने का भगीरथ प्रयास किया है और तय समय सीमा से भी पहले देश के सभी गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है, अब हमारा फोकस देश के सभी घरों को रौशन करना है

**************

सिद्धारमैया सरकार भगवान् बसवेश्वर के विचारों के खिलाफ काम कर रही है, इस सरकार की नीतिबांटो और राज करो' की है लेकिन कर्नाटक की जनता कांग्रेस सरकार को कड़ा सबक सिखायेगी

************** 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज कर्नाटक के विजयपुरा और कोप्पल में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुये कर्नाटक की जनता को विकास से वंचित रखने का पाप करने के लिये कांग्रेस पार्टी और सिद्धारमैया सरकार पर जम कर प्रहार किया।

श्री मोदी ने कहा कि कर्नाटक की जनता ने सिद्धारमैया सरकार और कांग्रेस पार्टी को पांच साल के लिए कड़ी से कड़ी सजा देने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शीर्ष नेता अभी से अपने घरों में बैठ कर हार के बहानों पर मंथन कर रहे हैं कि 15 तारीख के बाद हार के लिए कौन से कारण गिनाने हैं, वे अभी से ईवीएम पर दोष मढ़ने की योजनायें बना रहे हैं।

श्री मोदी ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुये कहा कि केवल चार वर्षों में देश में लगभग 12 करोड़ लोगों को मुद्रा बैंक योजना के माध्यम से ऋण देकर स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराये गए हैं और युवाओं कोजॉब सीकर' सेजॉब क्रियेटर' बनाने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार देश के गरीब से गरीब व्यक्ति को सामाजिक सुरक्षा कवच प्रधान करने के उद्देश्य से काफी कम प्रीमियम पर बीमा योजनायें लेकर आई है जिसका फायदा देश के करोड़ों लोगों को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार देश के गरीब लोगों के लिएआयुष्मान भारत' योजना लेकर आई है जिसके तहत देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को पांच लाख रुपये तक की मेडिकल सुविधाएं मुफ्त मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि हमने देश के हर गाँव को अंधकार से मुक्ति दिलाने का भगीरथ प्रयास किया है और तय समय सीमा से भी पहले देश के सभी गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है, अब हमारा फोकस देश के सभी घरों को रौशन करना है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में 6 महीने के भीतर ही हजारों परिवारों को बिजली का कनेक्शन दिया गया है। उन्होंने कहा कि हमने ऐसी व्यवस्था बनाई है कि अब हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई यात्रा कर सकता है। उन्होंने कहा कि हम बच्चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई और बुजुर्गों को दवाई के मंत्र को लेकर काम कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने शिक्षा को रोजगारोन्मुख बनाने के लिए स्किल डिवेलपमेंट की योजनायें बनाई हैं। उन्होंने कहा कि अटल पेंशन योजना के जरिये आज देश के करीब एक करोड़ सीनियर सिटीजन लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर विजयापुरा में फूड प्रोसेसिंग का बहुत बड़ा प्लांट लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में श्री येदुरप्पा जी के नेतृत्व में बनने वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने पशुपालन और डेयरी फॉर्म को बढ़ावा देने के लिए 100 करोड़ रुपये के निवेश की योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि हमारी रामायण सर्किट योजना से कोपल्ल और इसके आसपास के इलाकों को काफी फायदा पहुंचेगा क्योंकि यह क्षेत्र महावीर हनुमान की जन्मस्थलि और भगवान राम के वनवास से जुड़ी हुई है।

किसानों की भलाई के लिए केंद्र सरकार द्वारा किये गए कार्यों की चर्चा करते हुए श्री मोदी ने कहा कि हमारे किसानों के जीवन में कोई संकट न आए, इसके लिए हमने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की है, देश भर के लाखों किसान इस योजना से लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को यदि सिंचाई की समुचित सुविधा मिल जाये तो वह मिट्टी से सोना पैदा कर सकते हैं लेकिन सिद्धारमैया सरकार ने सिंचाई की योजनाओं के लिये कोई पहल नहीं की। उन्होंने कहा कि जब कर्नाटक में सूखा पड़ा तब सिद्धारमैया सरकार के मंत्री इस समस्या का समाधान करने के बजाय दिल्ली में राजनीति करने में व्यस्त थे। उन्होंने कहा कि कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार 'स्लीप मोड' में है और सिंचाई की समस्या सुलझाने के लिए कुछ नहीं कर रही, इसलिए राज्य के किसानों को पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पांच सालों में कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार ने कर्नाटक के किसानों को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भाजपा सरकार बनने पर भूमिहीन खेतिहर मजदूरों को 2 लाख रुपये तक का बीमा कवच दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एक तरफ तो कांग्रेस महिलाओं की सुरक्षा की बात करती है, लेकिन माताओं, बहनों, बेटियों की भलाई के लिए उसने कुछ भी नहीं किया, वह उनकी सुरक्षा को लेकर कतई गंभीर नहीं है। उन्होंने कहा कि यह हमारी भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार है जिसने बलात्कारियों के लिये फांसी की सजा का क़ानून बनाया। उन्होंने कहा कि हमने बेटियों को बचाने का बीड़ा उठाया है, 'बेटा-बेटी एक समान' औरबेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान आज एक जन-आंदोलन बन चुका है और इस इनिशिएटिव से समाज में व्यापक बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि ‘सुकन्या समृद्धि योजना' से बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने की नींव रखी गई है। उन्होंने कर्नाटक भाजपा के घोषणापत्र में महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्धता दर्शाने और उसके लिए काम करने की योजना हेतु भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार श्री येदुरप्पा जी को हार्दिक धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मैंने ‘मन की बात' में बेटी मलम्मा का जिक्र किया था कि किस तरह उस छोटी सी बच्ची ने शौचालय बनाने की जिद पकड़ी और पूरे देश को राह दिखाने का काम किया। उन्होंने कहा कि जब मैंने लाल किले से शौचालय बनाने की बात कही तो लोगों ने मेरा मजाक उड़ाया लेकिन हमने साढ़े सात करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण कर बेटियों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है। उन्होंने कहा कि आज मलम्मा जैसी लाखों बेटियांस्वच्छ भारतअभियान को आगे बढ़ा रही हैं, इसके लिए मैं इस धरती को नमन करता हूँ।

तीन तलाक पर चर्चा करते हुये श्री मोदी ने कहा कि जब हम तीन तलाक का क़ानून लेकर संसद में आये तो कांग्रेस ने इसे राज्यसभा में पारित नहीं होने दिया। उन्होंने कहा कि बेटियों की सुरक्षा और सोशल सिक्योरिटी को लेकर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बेटियां, बेटियां होती हैं चाहे किसी भी संप्रदाय की हों, उनका सम्मान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस कांग्रेस पार्टी ने संसद में तीन तलाक विधेयक को पास नहीं होने दिया, आखिर वह महिला सशक्तिकरण की बात कैसे कर सकती है? उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत देश की लगभग चार करोड़ महिलाओं को गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया गया है और उन्हें लकड़ी के चूल्हे के धुएं से मुक्ति दिलाई गई है। उन्होंने कहा कि  हमारी सरकार ने कर्नाटक में करीब 10 लाख परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए हैं। उन्होंने कहा कि हम गरीबों के लिए जीते हैं, गरीबों के लिए मरते हैं लेकिन सोने की चम्मच लेकर पैदा होने वालों को भला गरीबों की समस्या का क्या पता? 

भ्रष्टाचार को लेकर कर्नाटक की कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लेते हुये प्रधानमंत्री ने कहा कि सिद्धारमैया सरकार में ऐसा कोई मंत्री नहीं है, जिस पर भ्रष्टाचार का आरोप न लगा हो। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी और उसके मुख्यमंत्री अंहकार में डूबे हुए हैं, उन्हें राज्य की जनता की कोई फिक्र ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लिये एक परिवार ही संविधान है, सरकार है। उन्होंने कहा कि मैंने एक कांग्रेस नेता का इंटरव्यू देखा, वे कह रहे थे कि यदि सोनिया गांधी जी चुनाव प्रचार करती हैं तो कर्नाटक में कांग्रेस को फायदा पहुंचेगा, इसका मतलब यह है कि कर्नाटक में कांग्रेस के नेताओं को तो अपने 'नामदार' नेताओं पर भी भरोसा नहीं है।

श्री मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रभक्ति और समाज की सेवा में भरोसा करती है। हमारा केवल एक ही मंत्र है- 'सबका साथ, सबका विकासजबकि कांग्रेस पार्टी के लिए केवल एक परिवार ही सबकुछ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के कारनामों को देखने से पता चल जाता है कि उसकी राजनीतिक सोच कितनी विकृत है, देश के भीतर कैसे जहर घोलने वाली है। उन्होंने कहा कि हम विकास के लिये वोट मांग रहे हैं तो कांग्रेस समाज को बांटने के नाम पर वोट मांग रही है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में एक से बढ़कर एक धरोहर हैं, लेकिन सिद्धारमैया सरकार ने उसके प्रचार-प्रसार के लिए कुछ भी नहीं किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कर्नाटक की धरती महान संतों, गुरुओं और मठों की धरती रही है जिन्होंने समाज को प्रगतिशील, भेदभाव रहित और समानता पूर्ण बनाते हुये मानवीय जीवन की परेशानियों को खत्म करने का काम किया। भगवान् बसवेश्वर ने यहीं से सभी वर्गों को साथ लेकर सबके उत्थान का मंत्र दुनिया को दिया था लेकिन कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार उनके सिद्धांतों पर नहीं चल रही है, उन्हें बस वोटों की चिंता है, राज्य की नहीं। उन्होंने कहा कि सिद्धारमैया सरकार भगवान् बसवेश्वर के विचारों के खिलाफ काम कर रही है, इस सरकार की नीतिबांटो और राज करो' की है लेकिन कर्नाटक की जनता कांग्रेस सरकार को कड़ा सबक सिखायेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र में 50 वर्ष से अधिक समय तक कांग्रेस की सरकार रहने के बावजूद संसद में भगवान् बसवेश्वर की मूर्ति संसद में नहीं लगायी गई, जब श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के नेतृत्व में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी, तब जाकर संसद में भगवान् बसवेश्वर की मूर्ति लगाई गई। उन्होंने कहा कि केंद्र में हमारी सरकार आने के बाद से भगवान् बसवेश्वर के विचारों को दुनिया भर में प्रचारित-प्रसारित किया जा रहा है।

कुछ सर्वेक्षणों में कर्नाटक में त्रिसंकु विधानसभा की भविष्यवाणी पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग एसी रूम में बैठकर कर्नाटक में किसी को भी बहुमत नहीं मिलने की बात कर रहे हैं, वे भ्रम फैला रहे हैं, वास्तव में वे भारतीय जनता पार्टी के प्रति कर्नाटक की जनता के उत्साह, प्रेम और समर्थन को नहीं देख रहे। उन्होंने कहा कि इस बार कर्नाटक की जनता ने न सिर्फ कांग्रेस पार्टी को हटाने का निर्णय लिया है बल्कि कांग्रेस को कड़ी से कड़ी सजा देने का भी फैसला किया है। उन्होंने कहा कि आगामी 15 मई, 2018 को कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी की येदियुरप्पा सरकार ही बनेगी।

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh