bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient points of speech by BJP National President, Shri Amit Shah addressing the Narmada Jan-Samwaad programme at Gwari Ghat, Jabalpur (Madhya Pradesh)

Accessibility

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा जबलपुर (मध्य प्रदेश) में आयोजित नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा कार्यक्रम में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

माँ नर्मदा जीवनदायिनी तो है ही, साथ ही यह मोक्षदायिनी भी है। पुराणों में कहा गया है कि माँ नर्मदा के दर्शन मात्र से ही मुक्ति मिल जाती है: अमित शाह
**********
जब सनातन धर्म पर सबसे बड़ा संकट आया तो आदिगुरु शंकराचार्य ने माँ नर्मदा के तट पर ही सनातन धर्म की रक्षा करने और उसे एक नई उंचाई पर ले जाने का बीड़ा उठाया था, माँ नर्मदा भारत की संस्कृति और धर्म की प्रतीक है: अमित शाह
**********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पहाड़ों, जंगलों एवं नदियों को संरक्षित एवं संवर्द्धित करने के अभियान को जिस तरह से जन-आंदोलनों में परिवर्तित किया है, उसी अभियान को श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने बहुत ही अच्छे तरीके से आगे बढ़ाने का काम किया है: अमित शाह
**********
माँ नर्मदा को संरक्षित करने का अभियान प्रारंभ करके श्री शिवराज जी ने आधुनिक भगीरथ का कार्य किया है: अमित शाह
**********
हजारों वर्षों से माँ नर्मदा हमें जीवन देती आई है, अब समय आ गया है कि समाज भी माँ नर्मदा के लिए कुछ करे: अमित शाह
**********
शिवराज जी ने नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा का जो जन-आंदोलन शुरू किया है, उससे पूरे मध्य प्रदेश की जनता जुड़ गई है, सेवा यात्रा के इस यज्ञ ने पूरे मध्य प्रदेश को एकजुट करने का काम किया है: अमित शाह
**********
माँ नर्मदा के संरक्षण व संवर्द्धन से न केवल ऊर्जा, रोजगार और अनाज का उत्पादन बढ़ेगा, बल्कि संस्कृति और धर्म भी पुनर्जीवित और संरक्षित होगी: अमित शाह
**********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नमामि गंगे का जो प्रोजेक्ट हाथ में लिया था, वह तो केवल एक सिंबल है, उत्तर प्रदेश में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद मुझे विश्वास है कि अब माँ गंगा के शुद्धिकरण का काम भी इतनी ही तेज गति से आगे बढ़ेगा: अमित शाह
**********
माँ गंगा, नर्मदा और यमुना जी के शुद्ध हो जाने से देश की बहुत सारी समस्याओं का समाधान स्वतः ही हो जाएगा: अमित शाह
********** 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज जबलपुर (मध्य प्रदेश) में आयोजित नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा में भाग लिया और इस अवसर पर आयोजित एक विशाल कार्यक्रम को भी संबोधित किया। कार्यक्रम को संबोधित करने के पश्चात वे माँ नर्मदा की महा-आरती में भी शामिल हुए और पर्यावरण, संस्कृति एवं धर्म के ध्वज को हाथों में लेकर नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा के सहभागी बने। कन्या-पूजन के साथ-साथ उन्होंने संतों का सान्निध्य एवं आशीर्वाद भी प्राप्त किया। इस सेवा यात्रा में देश भर से आये संतों के साथ विशाल संख्या में जनमानस भी प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी की अगुआई में माँ नर्मदा के संरक्षण का संकल्प लेने शामिल हुए। इस कार्यक्रम में यूएनओ के प्रतिनिधि भी विशेष रूप से उपस्थित थे।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जीवनदायिनी माँ नर्मदा को संरक्षित एवं संवर्धित करने के लिए श्री शिवराज जी ने जो भगीरथ पुरुषार्थ किया है, वह अपने आप में अप्रतिम है। उन्होंने कहा कि गुजरात को भी सुजलाम सुफलाम बनाने में माँ नर्मदा के प्रताप का ही योगदान है। उन्होंने कहा कि गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र के साथ-साथ राजस्थान भी माँ नर्मदा के आशीर्वाद से जगमग कर रहा है। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा के लगभग 1200 किमी का पवित्र प्रवाह इन राज्यों में लोगों के जीवन का मूल कारण बना है।

श्री शाह ने कहा कि माँ नर्मदा जीवनदायिनी तो है ही, साथ ही यह मोक्षदायिनी भी है। उन्होंने कहा कि पुराणों व उपनिषदों में माँ नर्मदा की महिमा का विशेष रूप से बखान किया गया है, पुराणों में कहा गया है कि माँ नर्मदा के दर्शन मात्र से ही मुक्ति मिल जाती है। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा के किनारे ही सनातन धर्म की सेवा का बहुत बड़ा यज्ञ ऋषि-मुनियों ने शुरू किया था। उन्होंने कहा कि जब सनातन धर्म पर सबसे बड़ा संकट आया तो आदिगुरु शंकराचार्य ने माँ नर्मदा के तट पर ही सनातन धर्म की रक्षा करने और उसे एक नई उंचाई पर ले जाने का बीड़ा उठाया था, माँ नर्मदा भारत की संस्कृति और धर्म की प्रतीक है। उन्होंने कहा कि शिवराज जी माँ नर्मदा के तट पर स्थित आदिगुरु शंकराचार्य की गुफा को भी अच्छे से बना कर एक बहुत ही अच्छा काम कर रहे हैं।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि माँ नर्मदा को संरक्षित करने का अभियान प्रारंभ करके श्री शिवराज जी ने आधुनिक भगीरथ का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि गुजरात में साबरमती और सरस्वती नदी के साथ-साथ 21 नदियों में माँ नर्मदा का पानी डाल कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पूरे गुजरात की नदियों को सजीवन करने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा एक अक्षय ऊर्जा का स्रोत है। उन्होंने कहा कि कभी इसका पानी कभी ख़त्म नहीं होता लेकिन पेड़ों के अत्यधिक कटाव से भू-क्षरण और पर्यावरण असंतुलन के कारण कब तक माँ नर्मदा लोगों को जीवन देती रहेगी। उन्होंने कहा कि हजारों वर्षों से माँ नर्मदा हमें जीवन देती आई है, अब समय आ गया है कि समाज भी माँ नर्मदा के लिए कुछ करे। उन्होंने कहा कि शिवराज जी ने नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा का जो जन-आंदोलन शुरू किया है, उससे पूरे मध्य प्रदेश की जनता जुड़ गई है, सेवा यात्रा के इस यज्ञ ने पूरे मध्य प्रदेश को एकजुट करने का काम किया है।

श्री शाह ने कहा कि आने वाले दिनों में जब फलदार वृक्ष लगेंगें, नए मुक्तिधाम बनेंगे, मल-मूत्र जब माँ नर्मदा में नहीं जाएगा, कारखानों का गंदा पानी माँ नर्मदा में नहीं जाएगा, पूजा सामग्री के विसर्जन के लिए जब अलग से कुंड बनेगा, शराब के ठेकेदारों को माँ नर्मदा के किनारे से पांच किलोमीटर दूर खदेड़ दिया जाएगा तो इससे न केवल ऊर्जा, रोजगार और अनाज का उत्पादन बढ़ेगा, बल्कि संस्कृति और धर्म भी पुनर्जीवित और संरक्षित होगी।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि दुनिया की कई नदियों को शुद्ध किया गया है, मुझे लगता है कि शिवराज जी ने जो यह अभियान जन-आंदोलन के रूप में शुरू किया है, वह आने वाले दिनों में माँ नर्मदा को भी शुद्ध नदी की सूची में जोड़ने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नमामि गंगे का जो प्रोजेक्ट हाथ में लिया था, वह तो केवल एक सिंबल है, उत्तर प्रदेश में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद मुझे विश्वास है कि माँ गंगा के शुद्धिकरण का काम भी इतनी ही तेज गति से आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि माँ गंगा, नर्मदा और यमुना जी के शुद्ध हो जाने से देश की बहुत सारी समस्याओं का समाधान स्वतः ही हो जाएगा।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पहाड़ों, जंगलों एवं नदियों को संरक्षित एवं संवर्द्धित करने के अभियान को जिस तरह से जन-आंदोलनों में परिवर्तित किया है, उसी अभियान को श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने बहुत ही अच्छे तरीके से आगे बढ़ाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि मैं भारतीय जनता पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं की ओर से मैं शिवराज जी को इस भगीरथ प्रयास के लिए ह्रदय से साधुवाद देता हूँ। उन्होंने संतों और राज्य की जनता का भी धन्यवाद करते हुए कहा कि शिवराज जी के इस जन-आंदोलन को उन्होंने जो ताकत दी है, इससे इस अभियान का लक्ष्य निश्चित रूप से हासिल किया जा सकेगा। उन्होंने नमामि देवी नर्मदा सेवा यात्रा में सबसे मनोयोग से जुड़ने का आह्वान किया और माँ नर्मदा के संरक्षण के प्रति समाज को जागरूक करने व इसके लिए वृक्षारोपण, स्वछता और पवित्रता के लिए हर संभव प्रयास करने का संकल्प लिया।

(महेंद्र पांडेय)
कार्यालय सचिव

 




Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh