bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient points of Hon'ble Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing public meetings in Hanumangarh, Sikar and Jaipur (Rajasthan) on 04 Dec 2018

Accessibility

 

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राजस्थान के हनुमानगढ़, सीकर और जयपुर में आयोजित विशाल जन-सभाओं में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु 

 

राजस्थान की जनता को इस बात का भरोसा है कि केंद्र में मोदी सरकार और राजस्थान में वसुंधरा राजे सरकार मिलकर प्रदेश के भविष्य को संवार सकते हैं। राज्य में भारतीय जनता पार्टी की विजय निश्चित है

****************

हम पांच धाराओं की विकास गंगा प्रवाहित कर जन-कल्याण के लिए काम कर रहे हैं - बेटे-बेटियों की पढ़ाई, युवाओं की कमाई, किसानों को सिंचाई, बुजुर्गों को दवाई और जन-जन की सुनवाई

****************

“भारत माता की जय” का जयकारा लगाने से हर हिंदुस्तानी के मन में असीम ऊर्जा का संचार होता है, देश के लिए कुछ कर गुजरने की प्रेरणा मिलती है लेकिन कांग्रेस के “नामदार" को ऐसा महसूस नहीं होता

****************

शर्म आती है ऐसी कांग्रेस पार्टी पर जो “भारत माता की जय" भी नहीं बोलने देती। एक जिम्मेदार पार्टी अध्यक्ष के मुंह से भारत माता का विरोध शोभा नहीं देता, यह कांग्रेस के 125 वर्षों के इतिहास पर कलंक है। आपके लिए भारत माता की चाहे जो अहमियत हो, लेकिन हमारे लिए भारत माता ही सब कुछ है

****************

“भारत माता की जय" के बजाय “सोनिया गाँधी की जय" बोलने का दवाब बनाना “नामदार" का चरित्र है लेकिन हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं, हम तो जियेंगे भी भारत माँ के लिए और मरेंगे भी भारत माँ के लिए

****************

देश की आजादी से 2008 तक बैंकों ने जितना कर्ज दिया, 2008-2014 में रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपी सरकार ने उससे ज्यादा कर्ज देकर बैंकों को बर्बाद कर दिया

****************

एक घाटे में चल रही स्टील कंपनी को कांग्रेस के “नामदार" के फोन से हजारों करोड़ का लोन मिला। फिर राजस्थान में एक फर्जी कंपनी पैदा हुई, उसने कौड़ियों के मोल जमीन “नामदार" के रिश्तेदार को बेच दी। फिर उसे सात गुने दाम पर रिश्तेदार ने बेच दिया। ऐसे फ्रॉड करने वालों को राजस्थान की जनता ने सबक सिखाने का निश्चय कर लिया है

****************

कांग्रेस के एक नेता ने खुलेआम कहा था कि इंडिया का आर्मी चीफ सड़क छाप गुंडा है, उससे भी बड़ी बात है कि कांग्रेस के “नामदार" ने उस नेता को पार्टी का बड़ा पदाधिकारी बना दिया। जो पार्टी ऐसे लोगों को पदाधिकारी बना दे, ऐसे लोगों पर भूल कर भी विश्वास नहीं किया जा सकता है

****************

हमारी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक कर के दिखा दिया कि जवाब कैसे दिया जाता है। सर्जिकल स्ट्राइक पर पूरा देश जोश और ज़ज्बे से भरा हुआ था लेकिन कांग्रेस में ऐसे लग रहा था जैसे कोई शोक सभा है।

****************

पाकिस्तान को भी पता चल गया कि सर्जिकल स्ट्राइक हुई है लेकिन कांग्रेस के नामदार सेना की बहादुरी पर सवाल उठाते हुए सबूत मांग रहे थे। सेना का अपमान करने वाली ऐसी कांग्रेस पार्टी के हाथों में सत्ता की बागडोर नहीं सौंपी जा सकती

****************

कांग्रेस की गलत नीतियों का ही परिणाम है कि देश के किसानों को मुसीबत झेलनी पड़ रही है। यदि किसान-पुत्र सरदार वल्लभ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो किसानों की आज ये हालत न होती

****************

जिसको हरी मिर्च, लाल मिर्च का फर्क नहीं पता, वो अब हमें किसानों की भाषा समझाने लगे हैं। एक ही परिवार की चार-चार पीढ़ियों ने, जिनको न खेत की समझ है न खेती की समझ है, उन्होंने ऐसी नीति बनाई कि मेरे देश का किसान बर्बाद हो गया

****************

विभाजन के समय यदि कांग्रेस नेताओं ने ‘समझदारी, संवेदशीलता और गंभीरता' दिखाई होती तो करतारपुर कभी भारत से अलग होकर पाकिस्तान में जाता ही नहीं। कांग्रेस से यह सवाल पूछा जाना चाहिए कि आपको 1947 में यह याद क्यों नहीं आया कि करतारपुर साहिब हिंदुस्तान में होना चाहिए

****************

कांग्रेस की हर बड़ी गलती को ठीक करने का काम मेरे नसीब में आया है और मेरा नसीब मेरी हाथ की लकीरों ने नहीं बल्कि सवा सौ करोड़ देशवासियों के विश्वास में है। आज यदि करतारपुर साहिब कॉरिडोर बन रहा है तो इसका क्रेडिट मोदी को नहीं बल्कि देश की जनता के वोट को जाता है

****************

कांग्रेस की सरकार के समय पहले समाचार पत्रों की हेडलाइन होती थी - कोयला घोटाला, 2जी घोटाला, सबमरीन घोटाला, कॉमनवेल्थ घोटाला, लेकिन आज भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार के साढ़े चार सालों में ऐसी एक भी ख़बरें नहीं आई क्योंकि देश के पैसों की लूट बंद हो गई है

****************

कांग्रेस की सरकारों ने राजस्थान को ‘बीमारु' राज्य में तब्दील कर दिया था जिसे वसुंधरा सरकार ने पांच वर्षों में विकसित प्रदेश के रूप में प्रतिष्ठित किया है। अगले पांच सालों में हम राजस्थान को समृद्ध राज्य के रूप में विकसित करेंगे

****************

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज राजस्थान में तीन विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और राजस्थान को विकास से महरूम रखने के लिए कांग्रेस पार्टी पर जम कर प्रहार किया। उन्होंने वीरभूमि राजस्थान को प्रणाम करते हुए कहा कि अपने लहू से भारत माँ का तिलक करने वाले राजस्थान के वीर सपूतों और उन्हें देश की रक्षा के लिए त्याग करने वाली वीरांगना माँ को मैं शीश झुका कर नमन करता हूँ। उन्होंने भारतीय नौसेना दिवस पर नौसेना को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विराट समंदर में शौर्य और साहस का प्रतीक बनी हमारी नौसेना हमारे देश की आन, बान और शान है। उन्होंने एडमिरल विजय सिंह शेखावत और एडमिरल मानवेंद्र सिंह जी के अमूल्य योगदान को भी याद किया। विश्व भ्रमण कर लौटी INS तारिणी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत बनी एक छोटी सी नाव से पूरे विश्व का समुद्री मार्ग से भ्रमण करके विश्व में हिन्दुस्तान का झंडा लहरा कर हमारी 6 बेटियां लौट आईं। मैं उनकी बहादुरी को नमन करता हूँ।

 

हम जियेंगे तो भारत माता के लिए और मरेंगे तो भारत माता के लिए

 

श्री मोदी ने कहा कि “भारत माता की जय” का जयकारा लगाने से हर हिंदुस्तानी के मन में असीम ऊर्जा का संचार होता है, देश के लिए कुछ कर गुजरने की प्रेरणा मिलती है, मुझे जनता की सेवा करने की प्रेरणा मिलती है लेकिन कांग्रेस के “नामदार" को ऐसा महसूस नहीं होता। कांग्रेस के “नामदार" फतवा निकालते हैं कि नरेन्द्र मोदी को अपने भाषण की शुरुआत “भारत माता की जय" के साथ नहीं करनी चाहिए, इसलिए मैंने आज कांग्रेस के “नामदार" के फतवे को चूर-चूर करते हुए भारत माता की जय का उद्घोष किया है। कांग्रेस के “नामदार" कौन होते हैं हिंदुस्तान के बेटों के मुंह से “भारत माता की जय" के जयकारे छीनने वाले। शर्म आती है ऐसी कांग्रेस पार्टी पर जो “भारत माता की जय" भी नहीं बोलने देती। चुनाव में निश्चित हार को देख कर “नामदार" क्या इतना गिर जायेंगे कि भारत माता के अपमान पर उतारू हो जायेंगे। एक जिम्मेदार पार्टी अध्यक्ष के मुंह से “भारत माता की जय" का विरोध शोभा नहीं देता है, यह कांग्रेस पार्टी के 125 वर्षों के इतिहास पर कलंक है। आखिर कांग्रेस के “नामदार" को भारत माता का जयकारा सुनने से परेशानी क्यों हो रही है? आपके लिए भारत माता की चाहे जो अहमियत हो, लेकिन हमारे लिए भारत माता ही सब कुछ है। उन्होंने कहा कि श्रद्धेय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने कहा था कि हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हैं, मरने के बाद गंगा जी में बहती हुई हमारी हड्डी को भी कान लगाकर सुनोगे तो उसमें से आवाज आयेगी - भारत माता की जय।

 

“भारत माता की जय" का विरोध कांग्रेस के नामदार का चरित्र

 

राजस्थान में एक कांग्रेस नेता के वायरल हुए वीडियो की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस वीडियो में कांग्रेसी कार्यकर्ता “भारत माता की जय" के नारे लगा रहे थे तो कांग्रेस नेता गुस्से में आ गए और कार्यकर्ताओं को “भारत माता की जय" की जगह “सोनिया गाँधी की जय" का नारा लगाना लाने के लिए मजबूर किया। “भारत माता की जय" के बजाय “सोनिया गाँधी की जय" बोलना कांग्रेस के “नामदार" का चरित्र है लेकिन हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हैं, हम तो जियेंगे भी भारत माँ के लिए और मरेंगे भी भारत माँ के लिए।

 

करतारपुर साहिब कॉरिडोर का क्रेडिट देश की जनता के वोट को जाता है

 

हनुमानगढ़ में पवित्र करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर बोलते हुए श्री मोदी ने कहा कि विभाजन के समय यदि कांग्रेस नेताओं ने ‘समझदारी, संवेदशीलता और गंभीरता' दिखाई होती तो करतारपुर कभी भारत से अलग होकर पाकिस्तान में जाता ही नहीं। उन्होंने कहा कि सत्ता के मोह को समझा जा सकता है लेकिन सत्ता और राजगद्दी के मोह में कांग्रेस ने जो गलतियां की उन्हें आज तक भुगतनी पड़ रही है। कांग्रेस की हर बड़ी गलती को ठीक करने का काम मेरे नसीब में आया है और मेरा नसीब मेरी हाथ की लकीरों ने नहीं बल्कि सवा सौ करोड़ देशवासियों के विश्वास में है। उन्होंने कहा कि आज यदि करतारपुर साहिब कॉरिडोर बन रहा है तो इसका क्रेडिट मोदी को नहीं बल्कि देश की जनता के वोट को जाता है। कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी 50 वर्षों से अधिक समय तक सत्ता में रही लेकिन गुरु नानक देव जी के चरणों में माथा टेकने का प्रबंध नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस से यह सवाल पूछा जाना चाहिए कि आपको 1947 में यह याद क्यों नहीं आया कि करतारपुर साहिब हिंदुस्तान में होना चाहिए।

 

“नामदार" के राज में टेलीफोन पर लोन और फर्जी कंपनियों की जालसाजी

 

श्री मोदी ने कहा कि देश की आजादी से 2008 तक बैंकों ने जितना कर्ज दिया, 2008-2014 में रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपी सरकार ने उससे ज्यादा कर्ज देकर बैंकों को बर्बाद कर दिया। हालत तो यह थी कि कांग्रेस के नामदारों के एक टेलीफोन कॉल पर कर्ज दिए जा रहे थे। उन्होंने कहा कि एक स्टील कंपनी जो घाटे में चल रही थी, कांग्रेस के “नामदार" के फोन से उसे हजारों करोड़ रुपये का लोन मिला। फिर राजस्थान में एक फर्जी कंपनी पैदा हुई, फर्जी कंपनी ने जमीन खरीद कर “नामदार" के रिश्तेदार को दे दी। जो जमीन कौड़ियों के दाम ली गई थी, दो साल में उसे सात गुने दाम पर बेचा गया। ऐसे फ्रॉड करने वालों को राजस्थान की जनता ने सबक सिखाने का निश्चय कर लिया है।

 

उन्होंने कहा कि डीबीटी से देश के 90 हजार करोड़ रुपये केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने बचाए जिसका उपयोग जनकल्याण के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिनका इकठ्ठा किया गया काला धन नोटबंदी में रद्दी में तब्दील हुआ, वे ही आज भी रोना रो रहे हैं। जिन्होंने भी देश को लूटा है, उन्हें देश को लौटाना ही पड़ेगा, ये मोदी रुकने वाला नहीं है।

 

कांग्रेस की सरकार घोटालों की सरकार

 

कांग्रेस की केंद्र सरकारों और वर्तमान केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की तुलना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय पहले समाचार पत्रों की हेडलाइन होती थी - आज कोयला घोटाला हुआ, आज 2जी घोटाला हुआ, सबमरीन घोटाला हुआ, कॉमनवेल्थ घोटाला हुआ, ऐसी ही ख़बरें आये दिन आती रहती थी लेकिन आज भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार के साढ़े चार सालों में ऐसी एक भी ख़बरें नहीं आई क्योंकि देश के पैसों की लूट बंद हो गई है।

 

यदि सरदार वल्लभ भाई पटेल देश के प्रथम प्रधानमंत्री होते तो किसानों की ये दुर्दशा न होती

 

श्री मोदी ने कहा कि जैसे ही चुनाव का समय आता है, कांग्रेस पार्टी किसानों की हितैषी होने का दंभ भरने लगती है। ये चुनाव आने पर ही किसानों के कर्ज माफी की बात करते हैं। 2009 में कांग्रेस पार्टी ने किसानों से कर्ज माफी का वादा कर सरकार बना ली। 2009 में किसानों पर लगभग 6 लाख करोड़ रुपये का कर्ज था लेकिन कांग्रेस सरकार ने केवल 58,000 करोड़ रुपये का ही कर्ज माफ़ किया। इसमें भी लाखों ऐसे लोगों को पैसा दिया गया जिसका खेती और किसानी से कोई लेना-देना ही नहीं था। CAG रिपोर्ट ने भी इसकी पुष्टि की। इसी तरह कर्नाटक में भी कांग्रेस ने किसानों की कर्ज माफी का वादा किया था इसके बावजूद कर्नाटक की जनता ने कांग्रेस को नकार दिया क्योंकि उन्हें कांग्रेस के वादों पर भरोसा नहीं था। हालांकि हारने के बावजूद कांग्रेस पिछले दरवाजे से सत्ता में आ गई लेकिन किसानों की कर्ज माफी तो दूर, अब कांग्रेस की गठबंधन सरकार किसानों को जेल में बंद कर रही है, उनके खिलाफ वारंट निकाल रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की गलत नीतियों का ही परिणाम है कि देश के किसानों को मुसीबत झेलनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि यदि किसान-पुत्र सरदार वल्लभ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो किसानों की आज ये हालत न होती। एक ही परिवार की चार-चार पीढ़ियों ने, जिनको न खेत की समझ है न खेती की समझ है, उन्होंने ऐसी नीति बनाई कि मेरे देश का किसान बर्बाद हो गया। आज केंद्र की भाजपा सरकार किसानों के कल्याण के लिए कई योजनायें ले कर आई है और इसका फायदा भी अब उन्हें मिलने लगा है। उन्होंने कहा कि जिसको हरी मिर्च, लाल मिर्च का फर्क नहीं पता, वो अब हमें किसानों की भाषा समझाने लगे हैं। किसान कभी मांगने वाला नहीं होता, किसान अन्नदाता होता है, हम किसान को अन्नदाता के साथ ही ऊर्जादाता भी बनाना चाहते हैं। अब देशमें सौर ऊर्जा ला रहे हैं। हमने 28 लाख एकड़ में स्प्रेनकलर्स लगाने का हमने फैसला किया है। किसान बिजली पैदा करेंगे, जितनी जरूरत होगी वे इस्तेमाल करेंगे और फालतू बिजली को सरकार खरीद लेगी। पहले पानी के लिए राजस्थान के पंजाब से मतभेद थे जबकि पंजाब में भी कांग्रेस और केंद्र में भी कांग्रेस की ही सरकार थी। जब राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई तो 2,000 करोड़ रुपये की लागत से नहर को पक्का करने का काम शुरू किया गया, इससे 800 क्यूसेक पानी की बढ़ोत्तरी हुई जो राजस्थान के खेतों तक पहुंचा। 

 

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी की विजय निश्चित है

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस के रागदरबारी यह मान कर बैठे हुए थे कि राजस्थान में कांग्रेस की जीत निश्चित है क्योंकि यहाँ एक बार भाजपा की सरकार बनती है तो दूसरी बार कांग्रेस की लेकिन अब कांग्रेस पार्टी के वही राग दरबारी कह रहे हैं कि कांग्रेस राजस्थान में जीती हुई बाजी हार रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता कांग्रेस के झूठे वादों और नफरत की राजनीति से भलीभांति परिचित है। राजस्थान की जनता को इस बात का भरोसा है कि केंद्र में मोदी सरकार और राजस्थान में वसुंधरा राजे सरकार मिलकर प्रदेश के भविष्य को संवार सकते हैं। विकास और भारतीय जनता पार्टी के प्रति राजस्थान की जनता का प्यार और विश्वास है। राज्य में भारतीय जनता पार्टी की विजय निश्चित है।

 

सर्जिकल स्ट्राइक पर कांग्रेस के नामदार शोक सभा मना रहे थे

 

श्री मोदी ने कहा कि रिमोट कंट्रोल वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार में आये दिन आतंकवादी हमले होते रहते थे लेकिन हमारी सेना के जांबाज सिपाहियों ने सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान को करारा जवाब देते हुए हिन्दुस्तान की सेना की ताकत पूरे विश्व को दिखा दी, इसका क्रेडिट जनता के वोट को जाता है जिन्होंने अपने लिए सही सरकार का चुनाव किया। हमारी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक कर के दिखा दिया कि जवाब कैसे दिया जाता है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पर पूरा देश जश्न मना रहा था, लोग फूले नहीं समां रहे थे, पूरा देश जोश और ज़ज्बे से भरा हुआ था लेकिन कांग्रेस में ऐसे लग रहा था जैसे कोई शोक सभा है। कांग्रेस ऑफिस में बैठे नामदार सेना की बहादुरी पर सवाल उठाते हुए सबूत मांग रहे थे। पाकिस्तान को भी पता चल गया कि सर्जिकल स्ट्राइक हुई है लेकिन कांग्रेस के नामदार वीडियो मांग रहे थे। सेना का अपमान करने वाली ऐसी कांग्रेस पार्टी के हाथों में सत्ता की बागडोर नहीं सौंपी जा सकती।

 

देश के आर्मी चीफ का अपमान करने वाले को कांग्रेस के “नामदार" करते हैं सम्मानित

 

सीकर में जन-सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सीकर यानी शौर्य, सौन्दर्य, शिक्षा और संस्कार। उन्होंने कहा कि राजस्थान शूरवीरों की धरती है लेकिन कांग्रेस आए दिन सेना का अपमान करती है। वे सेना की निंदा करते हैं, जवानों का अपमान करते हैं। कांग्रेस के एक नेता ने खुलेआम कहा था कि इंडिया का आर्मी चीफ सड़क छाप गुंडा है, उससे भी बड़ी बात है कि अभी चार दिन पहले कांग्रेस के “नामदार" ने आर्मी चीफ का अपमान करने वाले कांग्रेस नेता को पार्टी का बड़ा पदाधिकारी बना दिया। जो पार्टी ऐसे लोगों को पार्टी पदाधिकारी बना दे, ऐसे लोगों पर भूल कर भी विश्वास नहीं किया जा सकता है।

 

राजस्थान के विकास के लिए कृतसंकल्पित

प्रधानमंत्री ने राजस्थान की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आपने ऐसे व्यक्ति को प्रधानमंत्री बनाया है जो जीता है तो सिर्फ आपके लिए, जागता है तो सिर्फ आपके लिए, जूझता है तो सिर्फ आपके लिए और जो झुकता भी है तो सिर्फ आपके लिए। उन्होंने कहा कि यह जनता के आशीर्वाद से बनी भाजपा सरकार है जिसने आते ही ‘वन रैंक, वन पेंशन' को लागू किया। उन्होंने कहा कि हम पांच धाराओं की विकास गंगा प्रवाहित कर जन-कल्याण के लिए काम कर रहे हैं - बेटे-बेटियों की पढ़ाई, युवाओं की कमाई, किसानों को सिंचाई, बुजुर्गों को दवाई और जन-जन की सुनवाई।

 

श्री मोदी ने कहा कि वसुधरा जी के प्रयासों से “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ" के तहत राजस्थान में लिंगानुपात बेहतर हुआ है। जनता के एक वोट ने बेटियों की जिंदगी बचा ली। उन्होंने कहा कि मैं वसुंधरा जी को बधाई देता हूं कि उन्होंने बलात्कारी को कम समय में सजा का प्रावधान कर रिकॉर्ड कायम किया। राजस्थान की भाजपा सरकार की उपलब्धियों की विस्तार से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने राजस्थान को ‘बीमारु' राज्य में तब्दील कर दिया था जिसे वसुंधरा सरकार ने पांच वर्षों में विकसित प्रदेश के रूप में प्रतिष्ठित किया है। अगले पांच सालों में हम राजस्थान को समृद्ध राज्य के रूप में विकसित करेंगे।

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh