bharatiya janata party (BJP) logo

Press Releases

Salient point of speech by BJP National President, Shri Amit Shah addressing a public meeting in Vagra assembly constituency, Bharuch (Gujarat)

Accessibility

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा भरुच (वागरा विधानसभा) में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

गुजरात की जनता से मिल रहे अपार प्यार और स्नेह से मुझे यह पूर्ण विश्वास है कि इस बार गुजरात में भारतीय जनता पार्टी की 150 से अधिक सीटों पर विजय सुनिश्चित है

*************

कांग्रेस केवल वंशवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है जबकि भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केवल और केवल विकासवाद के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है

*************

इस बार का गुजरात विधान सभा चुनाव प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी द्वारा गुजरात में शुरू की गई विकास की यात्रा को अविरल रूप से निरंतर जारी रखने का विशिष्ट चुनाव है

*************

नेतृत्व विहीन कांग्रेस और राहुल गांधी को इस बात का जवाब देना चाहिए कि गुजरात में उनका नेता कौन है और उनकी तरफ से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन है?

*************

कांग्रेस ने अपने 10 वर्षों के यूपीए शासनकाल में देश और गुजरात के लिए केवल और केवल समस्याएं ही खड़ी की है जबकि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी इन समस्याओं से देश और गुजरात को निजात दिलाने का काम कर रहे हैं

*************

गुजरात में कांग्रेस सरकार की अराजकता और भ्रष्टाचार की जगह भारतीय जनता पार्टी के शासन में राज्य की जनता को 24 घंटे बिजली, समग्र राज्य को जोड़ने वाली हाइवे व पक्की सड़कें, कर्फ्यू-मुक्त क़ानून-व्यवस्था और जातिवाद से परे विकास और राष्ट्रवाद वाली सरकार मिली है

*************

चुनाव ऐसे स्पष्ट मुद्दों और एजेंडे पर लड़ा जाना चाहिए जिनका जनता से सरोकार हो और जिसे जनता स्वीकार करे लेकिन कांग्रेस के पास न कोई नेतृत्व है, न कोई नेता है और न ही कोई मुद्दा है

*************

गुजरात में भारतीय जनता पार्टी पिछले 22 सालों से अविरल विकास के मुद्दे के आधार पर सरकार चला रही है और आने वाले पांच वर्षों में भी विकास ही हमारा मुख्य एजेंडा रहेगा

*************

यह कोई एक विधानसभा को जीतने का चुनाव नहीं है बल्कि गुजरात के युवाओं का भविष्य सुधारने का चुनाव है, आदिवासियों और दलितों को समृद्ध करने का चुनाव है

*************

केवल और केवल भ्रष्टाचार और घोटालों में लिप्त रहने वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार ने देश और गुजरात के लिए अपने 10 वर्षों के कार्यकाल में क्या किया, इसका जवाब गुजरात की जनता कांग्रेस से मांग रही है

*************

कांग्रेस ने यूपीए सरकार के दौरान 10 वर्षों तक नर्मदा परियोजना को रोके रखा, गैस और ऑयल की रॉयल्टी गुजरात को नहीं दी और यहाँ तक कि गुजरात में नेशनल कॉरिडोर और इंटरनेशनल एयरपोर्ट का काम भी रोके रखा

*************

कांग्रेस ने हमेशा गुजरात के साथ अन्याय ही किया है। जब केंद्र में कांग्रेस की यूपीए सरकार थी, तब गुजरात को विकास के लिए केवल 63,346 करोड़ रुपए मिलते थे, आज जब केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, तब गुजरात को 1,58,377 करोड़ रुपये मिल रहे हैं

*************

वनबंधु योजना द्वारा आदिवासी क्षेत्रों में विकास पहुंचाने का काम गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने किया है। चाहे सागरखेरू हों, दलित हों, ओबीसी हों या आदिवासी, गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने समाज के सभी वर्गों का सर्वांगीण विकास किया है

*************

सोनिया गांधी जी 2010 से ही राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाना चाहती हैं लेकिन बनाए तो भी कैसे? 2011 से हर चुनाव में कांग्रेस की हार हो रही है। इस बार उन्होंने अलग रास्ता निकाला है। गुजरात और हिमाचल चुनाव की मतगणना से पहले ही राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का फैसला किया गया, नहीं तो इस बार भी राहुल गांधी को शायद राह देखनी पड़ जाती

*************

सरदार साहब का अपमान करने वालों को उनका नाम लेने का कोई अधिकार नहीं है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरदार साहब को अविस्मरणीय श्रद्धांजलि देने के लिए उनकी सबसे बड़ी प्रतिमा लगाने जा रही है

*************

कांग्रेस को कश्मीर और रोहिंग्या के मुद्दे पर पी. चिदंबरम सहित कांग्रेसी के तमाम नेताओं के बयान पर स्पष्टीकरण देना चाहिए कि आतंकवाद पर उनका क्या रुख है? राहुल गांधी खुद जेएनयू में राष्ट्र विरोधी तत्वों के समर्थन में भाषण करने पहुँच जाते हैं, उन्हें अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए

*************

कांग्रेस गुजरात को जातिवाद के संघर्ष में ख़त्म कर देना चाहती है, ऐसी पार्टी के साथ कोई भी गुजराती जाना पसंद नहीं करेगा

*************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज भरुच (वागरा विधानसभा), गुजरात में आयोजित एक विशाल जन सभा को संबोधित किया और राज्य की जनता से प्रदेश के विकास के लिए एक बार फिर से दो-तिहाई से अधिक बहुमत से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का आह्वान किया। इससे पहले माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अहमदाबाद के दरियापुर विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 98 पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के लोकप्रिय कार्यक्रम ‘मन की बात’ का श्रवण किया, इस कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ता के साथ-साथ विशाल संख्या में आमजन भी शरीक हुए। ज्ञात हो कि प्रदेश के सभी 182 विधानसभा क्षेत्रों में ‘मन की बात' को ‘मन की बात-चाय के साथ' कार्यक्रम के रूप में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम को देश भर में जनता पूरे मनोयोग से सुनती है और इसके प्रति उनका उत्साह देखते ही बनता है। गुजरात की जनता से मिल रहे अपार प्यार और स्नेह से अभिभूत भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इस बार गुजरात में 150 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी की विजय सुनिश्चित है। उन्होंने वागरा की जनता से अपील करते हुए कहा कि यहाँ के निवासी वागरा से 151वीं सीट जिताकर गुजरात में बनने वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार को और मजबूत बनाएं।

श्री शाह ने कहा कि इस बार का गुजरात विधान सभा चुनाव कोई सामान्य चुनाव नहीं बल्कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी द्वारा गुजरात में शुरू की गई विकास की यात्रा को अविरल रूप से निरंतर जारी रखने का विशिष्ट चुनाव है। कांग्रेस पर करारा प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव ऐसे स्पष्ट मुद्दों और एजेंडे पर लड़ा जाना चाहिए जिनका जनता से सरोकार हो और जिसे जनता स्वीकार करे लेकिन कांग्रेस के पास न कोई नेतृत्व है, न कोई नेता है और न ही कोई मुद्दा है। कांग्रेस पर प्रहार जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि मात्र टोलियाँ इकठ्ठा करने से चुनाव नहीं जीते जा सकते।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि गुजरात में भारतीय जनता पार्टी पिछले 22 सालों से अविरल विकास के मुद्दे के आधार पर सरकार चला रही है और आने वाले पांच वर्षों में भी विकास ही हमारा मुख्य एजेंडा रहेगा। उन्होंने कहा कि जनता को एक-एक पाई का सरकार के एक-एक क्षण का हिसाब देने की भारतीय जनता पार्टी सरकार की परंपरा रही है और इस बार के चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी जनता के समक्ष पाई-पाई का और एक-एक सेकेंड का हिसाब गुजरात की जनता को दे रही है।

श्री शाह ने कहा कि केंद्र में 10 वर्षों तक सोनिया-मनमोहन के नेतृत्व में कांग्रेस की यूपीए सरकार सत्ता में रही लेकिन उसने इन 10 वर्षों में भ्रष्टाचार के सिवा कोई और काम नहीं किया। उन्होंने कहा कि केवल और केवल भ्रष्टाचार और घोटालों में लिप्त रहने वाली कांग्रेस की यूपीए सरकार ने देश और गुजरात के लिए अपने 10 वर्षों के कार्यकाल में क्या किया, इसका जवाब गुजरात की जनता कांग्रेस से मांग रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने इस दौरान 10 वर्षों तक नर्मदा परियोजना को रोके रखा, गैस और ऑयल की रॉयल्टी गुजरात को नहीं दी और यहाँ तक कि गुजरात में नेशनल कॉरिडोर और इंटरनेशनल एयरपोर्ट का काम भी रोके रखा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने 10 वर्षों के यूपीए शासनकाल में देश और गुजरात के लिए केवल और केवल समस्याएं खड़ी की जबकि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी इन समस्याओं से देश और गुजरात को निजात दिलाने का काम कर रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा गुजरात के साथ अन्याय ही किया है। उन्होंने कहा कि जब केंद्र में कांग्रेस की यूपीए सरकार थी, तब 13वें वित्त आयोग के समय गुजरात को विकास के लिए केवल 63,346 करोड़ रुपए मिलते थे, आज जब केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, तब गुजरात को 14वें वित्त आयोग में 1,58,377 करोड़ रुपये आवंटित हुए हैं जो 13वें वित्त आयोग की तुलना में लगभग ढाई गुना अधिक है।

श्री शाह ने कहा कि 1995 से पहले के गुजरात और भारतीय जनता पार्टी के शासन में अभी के गुजरात में रात-दिन का फर्क है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में गुजरात में न तो बिजली थी, न सड़कें थी, ऊपर से बार-बार कर्फ्यू लगता था, साथ ही कांग्रेस ने समाज में जातिवाद का जहर घोल रखा था। उन्होंने कहा कि गुजरात में कांग्रेस सरकार की तुलना में भारतीय जनता पार्टी के शासन में राज्य की जनता को 24 घंटे बिजली, समग्र राज्य को जोड़ने वाली हाइवे व पक्की सड़कें, कर्फ्यू-मुक्त क़ानून-व्यवस्था और जातिवाद से परे विकास और राष्ट्रवाद वाली सरकार मिली है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार ने गरीब माताओं-बहनों के घर में गैस और शौचालय पहुंचाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि वनबंधु योजना द्वारा आदिवासी क्षेत्रों में विकास पहुंचाने का काम गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि चाहे सागरखेरू हों, दलित हों, ओबीसी हों या आदिवासी, गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने समाज के सभी वर्गों का सर्वांगीण विकास किया है।

अमेठी में विकास की बदहाली के ऊपर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथों लेते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अमेठी में आजादी के बाद से आज तक एक ही परिवार का शासन रहा है, तीन बार से राहुल गांधी स्वयं अमेठी का संसद में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं लेकिन वहां विकास की स्थिति दयनीय है। उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल बाद अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अमेठी में विकास कार्यों का भूमिपूजन करने मुझे आमंत्रित किया, वहां मैंने छोटे-छोटे विकास कार्यों का भूमिपूजन किया, अभी तक अमेठी में कलेक्ट्रेट ऑफिस भी नहीं बना है। रोजगार के लिए अमेठी से हजारों युवाओं का पलायन हुआ है। उन्होंने राहुल गांधी से प्रश्न पूछते हुए कहा कि आपने वहां रोजगार के अवसर पैदा नहीं किये, इसलिए उन्हें रोजगार के लिए राज्य से बाहर पलायन करने को विवश होना पड़ा।

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस को इसका जवाब गुजरात की जनता को देना चाहिए कि वह किस मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस केवल वंशवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है जबकि भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केवल विकासवाद के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि पिछले 22 वर्षों में गुजरात में आश्चर्यचकित कर देने वाला विकास हुआ है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष की अध्यक्ष के रूप में ताजपोशी की चर्चा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी जी की कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में ताजपोशी होने वाली है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी जी 2010 से ही राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाना चाहती हैं लेकिन बनाए तो भी कैसे, 2011 से हर चुनाव में कांग्रेस की हार हो रही है। उन्होंने कहा कि 2011 में कांग्रेस मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ का चुनाव हारी, 2012 में गुजरात के चुनाव हारी, 2014 के लोक सभा चुनाव में वे 400 से 40 हो गए, 2014 के बाद कांग्रेस महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड, कश्मीर, असम, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर और देश का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश हार गई तो ऐसे में इच्छा हो तो भी कैसे राहुल गांधी जी को प्रमुख बनाया जाय लेकिन इस बार उन्होंने इसका रास्ता निकाल लिया है। उन्होंने कहा कि गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव की मतगणना से पहले ही इस बार राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने का फैसला किया गया, नहीं तो इस बार भी राहुल गांधी को शायद राह देखनी पड़ जाती।

कांग्रेस पर हमला जारी रखते हुए श्री शाह ने कहा कि इस बार गुजरात में कांग्रेस ने नया नाटक शुरू किया है, वे गुजरात में जहां भी जाते हैं, सरदार वल्लभ भाई पटेल जी का नाम लेते हैं। उन्होंने कहा कि जवाहरलाल नेहरू से लेकर सोनिया गांधी तक, कांग्रेस ने सरदार साहब का अपमान करने का काम किया है चाहे वह उनकी अंतिम क्रिया हो, उन्हें भारत रत्न की बात हो, संसद में उनका तैल चित्र लगाने की बात हो या फिर उनका नाम जुड़े होने के कारण नर्मदा परियोजना को लटका कर रखने की बात हो लेकिन गुजरात की जनता सरदार साहब का नाम लेने भर से कांग्रेस के धोखे में नहीं आने वाली है। उन्होंने कहा कि सरदार साहब का अपमान करने वालों को उनका नाम लेने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरदार साहब को अविस्मरणीय श्रद्धांजलि देने के लिए उनकी सबसे बड़ी प्रतिमा लगाने जा रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इस बार का गुजरात विधानसभा चुनाव भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच नहीं बल्कि विकासवाद बनाम वंशवाद के बीच का चुनाव है, गुजरात की जनता वंशवाद को कभी पसंद नहीं करेगी।

श्री शाह ने कहा कि अभी हाल ही में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने वक्तव्य दिया कि कश्मीर में आजादी के नारे लगने में कुछ भी गलत नहीं है, मेरा उनसे बस इतना ही कहना है कि कश्मीर भारत माता का मुकुट है और प्रत्येक गुजराती कश्मीर की रक्षा के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता देश की सुरक्षा को ताक पर रखते हुए भारत में रोहिंग्या को शरण देने के लिए सहमति दर्शाते हैं, ऐसे में गुजरात की जनता को मालूम है कि कांग्रेस के लोग देश की सुरक्षा के लिए क्या सोच रखते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी खुद जेएनयू में राष्ट्र विरोधी नारा लगाने वाले तत्वों के समर्थन में भाषण करने पहुँच जाते हैं, कांग्रेस को आतंकवाद पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आज दुनिया आश्चर्यचकित होकर भारत के विकास को देख रही है, ऐसे में हमें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की विकास यात्रा को आगे बढाने की जिम्मेदारी हमारी है। उन्होंने कहा कि यह कोई एक विधानसभा को जीतने का चुनाव नहीं है बल्कि गुजरात के युवाओं का भविष्य सुधारने का चुनाव है, आदिवासियों और दलितों को समृद्ध करने का चुनाव है।

भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि नेतृत्व विहीन कांग्रेस और राहुल गांधी को इस बात का जवाब देना चाहिए कि गुजरात में उनका नेता कौन है और उनकी तरफ से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन है? उन्होंने कहा कि हमें मालूम है कि इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का क्या हश्र होने वाला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गुजरात को जातिवाद के संघर्ष में ख़त्म कर देना चाहती है, ऐसी पार्टी के साथ कोई भी गुजराती जाना पसंद नहीं करेगा। उन्होंने जनसभा में उपस्थित प्रत्येक व्यक्ति से गुजरात की विकास यात्रा को और तेज गति प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में श्री विजयभाई रुपाणी और श्री नितिन पटेल जी के नेतृत्व में राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता कांग्रेस के प्रपंच से भलीभांति परिचित है, वह आने वाले चुनाव में एक बार फिर से कांग्रेस को माकूल जवाब देगी।

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh